शब्द - एक कविता ,एक कहानी या जिंदगानी ? की पोस्ट्स

!! गर्मी की शाम !!

रात की रानी, चमेली की ख़ुशबूअमिया की भीनी-भीनी सी महकबगिया के पानी की सौंधी सुगंधभौरों की गुंजर,चिड़ियों की चहकसूरज का जाना,चंदा का आनापुरबयिया का तन मन सहलानाखुले आसमा में बैठक लगानादेर तलक...  और पढ़ें
3 सप्ताह पूर्व
शब्द - एक कविता ,एक कहानी या जिंदगानी ?
6

!! हाँ हमने देखा है ....!!

हाँ देखा है हमनेगायों को लौट के घर आतेहाँ देखा है हमनेकिसानों को बैल से हल चलातेहाँ देखा है ठंडा-ठंडा पानीचापाकल से निकलतेहाँ देखा है बुढ़ापाबचपन के कंधे संभलतेगलियों में भागते बच्चेपेड़ों...  और पढ़ें
3 सप्ताह पूर्व
शब्द - एक कविता ,एक कहानी या जिंदगानी ?
3

पगडंडी के गीत

मद्धम मद्धम होने लगेशोर सराबों की बीचपर मशरूफ़ियत में भी  मन को लेते वे खींचकुछ यादें पुरानीबचपन की कहानीमन की मनमानीक्या थी ज़िंदगानीवो बचपन का गाँवगाँव की वो पगडंडीपगडंडी के वे गीतमन की...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
शब्द - एक कविता ,एक कहानी या जिंदगानी ?
3

!! गवाह रहा है इतिहास !!

ताउम्र खेलता रहा था जो रंगों से अंतिम लिबास कितनी बेरंग उसकीबिन पूछे जला आए उसे सब मिलसाँसे भी लेते थे इजाज़त से जिसकी।महल मकान सब खड़े रह गए उसकेवो ख़ुद ही मिट्टी बन ख़ाक हो गया अपनी ट...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
शब्द - एक कविता ,एक कहानी या जिंदगानी ?
2

मन माँहीं उसे ढूँढ

हाँ रहता है मंदिर मस्जिद मेंपर तेरे भीतर भी रहता वोसुन तो ज़रा कभी ग़ौर सेबैठ भीतर क्या कहता वो।ख़ुद को हो या उसको ढूँढनाबाहर नहीं ढूँढ बस अंदर अपनेअंदर है बसा साम्राज्य सुख कासमाए जाने कितन...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
शब्द - एक कविता ,एक कहानी या जिंदगानी ?
2

!! शहर नहीं होता था गाँव बसेरा !!

नीम के पेड़ से झाँकता चाँद स्कूल के ऊपर से उगता सूरज आँगन में सजे लटकते सितारे सोती थी शबनम बग़ीचे हमारे। खेतों से बहके आती वो पुरवैया तालाब किनारे पीपल की छैयाँ  कभी न सूनी होनेवाल...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
शब्द - एक कविता ,एक कहानी या जिंदगानी ?
2

!! हमारी भक्ति की भी करें आप रक्षा, कब से कर रहे हैं हम भी प्रतीक्षा !!

भक्त प्रह्लाद के विश्वास हेतु  हीप्रकट हुए जब खम्भे से भगवान्विकराल रूप औ सिंह सी गर्जना बढ़ा गये भक्त की भक्ति का मान।हिरण्यकश्यपु वध न था प्रयोजन प्रह्लाद का प्रेम उन्हें बुला लायापहली ...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
शब्द - एक कविता ,एक कहानी या जिंदगानी ?
2

!! धरती माँ !!

पृथ्वी,अग्नि,जल,वायु,आकाशपाँच तत्त्वों से मिल बने हम सबहोती पृथ्वी की मात्रा सर्वाधिकगढ़ा जाता है ये मानव तन  जब।जीते जी भी होती अंदर व बाहरमरने के बाद भी ख़ुद में समा लेतीऐसी माँ है ये धरती ...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
शब्द - एक कविता ,एक कहानी या जिंदगानी ?
4

मेरा धर्म क्यूँ शर्मिंदा हो ?

मुझे नहीं शर्मिंदगी अपने धर्म पे क्योंकि मेरा धर्म हैवानियत नहीं सिखातान सीखी जिसने गीता न पढ़ी रामायण नाम रखने भर से कोई राम नहीं हो जाता दो-चार बाबा कुछेक हैवानये चेहरे नहीं...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
शब्द - एक कविता ,एक कहानी या जिंदगानी ?
4

!! बेटियाँ !!

आज फिर बही बयार दरिंदगी कीफिर घुटी पुकार मासूम ज़िंदगी कीबात नहीं धर्म,मज़हब या बंदगी कीबात है सिर्फ़ औ सिर्फ़ शर्मिंदगी की।कैसे लोग है जो गुनहगारों में भीइसका,उसका,मेरा तेरा कर रहे हैंक्या ...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
शब्द - एक कविता ,एक कहानी या जिंदगानी ?
4

भटके लोग

2 माह पूर्व
शब्द - एक कविता ,एक कहानी या जिंदगानी ?
4

चरित्रहीन

2 माह पूर्व
शब्द - एक कविता ,एक कहानी या जिंदगानी ?
4

!! चरित्रहीन !!

सुधा जैसी ही घर में घुसी माँ ने थोड़ा ग़ुस्से में पूछा,”तेरे साथ जो वो लड़की थी अभी वो पूनम थी न?”“हाँ” सुधा ने भी तंज में ही बोला।ये अब लगभग हर शुक्रवार होता है। शुक्रवार को सुधा का कोई ट्यूशन न...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
शब्द - एक कविता ,एक कहानी या जिंदगानी ?
4

!! ये भटके लोग !!

“भाई साहब, ये पता बताएँगे”“अरे भाई आप तो बहुत दूर निकल आए।”“अच्छा”तभी उसके साथी भी वहाँ आ गए।एक ने पूछा,”क्या हुआ कुछ पता चला”“हाँ भाई, हमें काफ़ी पीछे मुड़ जाना था पर आगे आ गए।”“आपको पहले किस...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
शब्द - एक कविता ,एक कहानी या जिंदगानी ?
4

कहीं जाना है क्या?

बच्चे टीवी देख रहे थे। वो किचेन में खाने की तैयारी कर रही थी। सब्ज़ी गैस पर चढ़ा कर आँच धीमी कर वो अब आटा गूँथ रही थी। आटा गूँथते समय वो बैठकर गूँथती थी नहीं तो उसे संतुष्टि नहीं होती। जब तक मसल-म...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
शब्द - एक कविता ,एक कहानी या जिंदगानी ?
4

झिझिया

2 माह पूर्व
शब्द - एक कविता ,एक कहानी या जिंदगानी ?
3

!! गाँव और शहर!!

चार पैसे अधिक कमाने को घर को और सही चलाने को निकले थे हम शहर की ओर भारी मन से गाँव को छोड़।पलट पलट कर देखें पीछे वे छूटते लोग, छूटते मकान बाँधा था सही से फिर भी पीछे रह गया काफ़ी सामान।हँसती, बलखा...  और पढ़ें
3 माह पूर्व
शब्द - एक कविता ,एक कहानी या जिंदगानी ?
4

!! हमें भई नहीं बदलना !!

क्षण प्रतिक्षण दुनिया बदल रही है और हम हमें भई हर क्षण नहीं बदलना बोली बदली,भाषा बदलीप्रेम की परिभाषा बदली और हम हमें भई ऐसे नहीं बदलना रस्म रिवाज तीज त्योहार रहा नहीं इनसे सरोकार और ...  और पढ़ें
3 माह पूर्व
शब्द - एक कविता ,एक कहानी या जिंदगानी ?
4

!! बिल्ली मौसी !!

आँगन में एक बड़ा-सा चूल्हा धीमी आँच पे पकता दूध मोटी परत जमी मलाई की धीमे-धीमे से उबलता दूध।माँ की नज़र बचा कोने में बैठी थी मौसी घात लगाए लपलपा रही जीभ उसकी माँ पे थी वो आँख टिकाए।दादी ने आवाज़ ...  और पढ़ें
3 माह पूर्व
शब्द - एक कविता ,एक कहानी या जिंदगानी ?
5

!! रंगमंच !!

रंगमंच ही तो है ये दुनिया सारी सबको मिला है अलग किरदारकिरदार के हिसाब से ही सुविधादेता सबको वो कुशल सूत्रधार।चौरासी लाख तरह के लिबासजल,थल,नभ में चलता अभ्यासहर किरदार की सीमा है निश्चितजितनी ...  और पढ़ें
3 माह पूर्व
शब्द - एक कविता ,एक कहानी या जिंदगानी ?
4

!! ये आज़ाद हवा आज़ाद वतन पाया है इनको बड़े जतन से !!

ये आज़ाद हवा आज़ाद वतनपाया है इनको बड़े जतन सेवीरों ने किए थे प्राण आहुतआयी आज़ादी उसी हवन से।राजगुरु,सुखदेव,भगतसिंहक्या हुए वीर ये बलिदानीइनके बिना अधूरी ही रहतीआज़ादी की अपनी कहानी।देशप...  और पढ़ें
3 माह पूर्व
शब्द - एक कविता ,एक कहानी या जिंदगानी ?
4

!! कविता !!

कविता मन को सींच सकती है कविता जोश को भींच सकती हैकविता दलदल से खींच सकती है कविता गूँगों के लिए चीख सकती है।आदि कवि वाल्मीकि की कविता जाने कितने इंसान बदल डाले सूर दास की श्यामल कविता ने कितन...  और पढ़ें
3 माह पूर्व
शब्द - एक कविता ,एक कहानी या जिंदगानी ?
4

!! कहाँ नहीं हैं हम !!

रिक्शा चलाते हम दिख जातेईंट उठाते हम दिख जातेसीमा पे हम दिखते नहीं हैज्ञान-विज्ञान में दिखते नहीं हैंराजनीति, फ़िल्म,साहित्य या शिक्षाकहाँ नहीं लहराया परचमदेश के आला अधिकारी हैं हमतीक्ष्ण...  और पढ़ें
3 माह पूर्व
शब्द - एक कविता ,एक कहानी या जिंदगानी ?
4

!! कविता !!

कविता मन को सींच सकती है कविता जोश को भींच सकती हैकविता दलदल से खींच सकती है कविता गूँगों के लिए चीख सकती है।आदि कवि वाल्मीकि की कविता जाने कितने इंसान बदल डाले सूर दास की श्यामल कविता ...  और पढ़ें
3 माह पूर्व
शब्द - एक कविता ,एक कहानी या जिंदगानी ?
5

कवि बनने के कारण

दिल के कोने का कोई तार भावनाओं का सुंदर चालक हो उमर की सीमा से उठकर रहता मन में सदा एक बालक हो।पीड़ा से दुःख पहुँचे मन को चाहे वो अपनी हो या परायी छिछला-छिछला न हो कुछ भी शब्दों में हो ...  और पढ़ें
3 माह पूर्व
शब्द - एक कविता ,एक कहानी या जिंदगानी ?
4

!! भिलनी के घर आए राम !!

मार्ग में फूल बिछाती सबरी था जो उसका रोज़ का कामकब से कर रही थी प्रतीक्षा ना जाने कब आ जाए श्रीराम।नयन के आगे चरण कमल थे जिनका ध्यान नित धरती थी वो मन में उमंग, आँखों में अश्रु प्रेमानंद में डूब...  और पढ़ें
3 माह पूर्व
शब्द - एक कविता ,एक कहानी या जिंदगानी ?
5

!! आते-जाते रस्ते लोग !!

आते-जाते रस्ते लोग मिलते और बिछड़ते लोग कुछ अमोल कुछ सस्ते लोग रोते गाते हँसते लोग।प्यार निभाते अच्छे लोग तोड़ के जाते कच्चे लोगहर दिन नए आते लोग कुछ पुराने जाते लोग।कुछ पीठ थपथपाते लोग कुछ ट...  और पढ़ें
3 माह पूर्व
शब्द - एक कविता ,एक कहानी या जिंदगानी ?
4

!! मैं हूँ देशी हुआ प्रवासी पर देश में ही डोले मन मेरा !!

मैं हूँ देशीहुआ प्रवासी पर देश में ही डोले मन मेरा फीकी होली स्याह दिवाली पंद्रह अगस्त को ऑफ़िस जाना मन कहता यह देश न तेरा मैं हूँ देशी हुआ प्रवासी पर देश में ही डोले मन मेरा बड़े-बड़े पर ख़ाल...  और पढ़ें
3 माह पूर्व
शब्द - एक कविता ,एक कहानी या जिंदगानी ?
4

!! ख़ुद खेलने की उम्र में भाई-बहन खिलाती लड़कियाँ !!

नन्ही-नन्ही हाथों सेनन्हें भाई को दुलारती छोटी-सी गोद में प्यार से संभालती।पेड़ की छांव तले घास का बिछौना था पेड़ों की टहनियों से बना एक खिलौना था।पिता गए शहर कमाने माँ घास काट रही...  और पढ़ें
3 माह पूर्व
शब्द - एक कविता ,एक कहानी या जिंदगानी ?
5

!! बेटियाँ !!

ये खिलखिलाती गुनगुनातीमुस्कुरातीबेटियाँ ज़िंदगी में ज़िंदगी को फिर से लाती बेटियाँ।नृत्य-सी, संगीत-सी जीवन में गीत-सी पुण्य पावन प्रीत-सी संस्कृति-सी, रीत-सी ताज़ा खिले गुलाब सी मन को भाती ब...  और पढ़ें
3 माह पूर्व
शब्द - एक कविता ,एक कहानी या जिंदगानी ?
4
Postcard
फेसबुक द्वारा लॉगिन  
हो सकता है इनको आप जानते हो!  
klonopin side effects
klonopin side effects
lBiVYhCZTGrAzmiyw,
Shailesh Goyal
Shailesh Goyal
Faridabad,India
Ram Chandra Rajpurohit
Ram Chandra Rajpurohit
Sardarshahr,India
Anujaa
Anujaa
Lucknow,India
Swarg
Swarg
,India
Yugandhar Times
Yugandhar Times
kushinagar ,India