bhonpooo.blogspot.com की पोस्ट्स

शिकायतनामा - बालगीत

नानी नानी जल्दी आओदूध जलेबी हमें खिलाओमुझे प्यार से गले लगाओफिर मम्मी को डांट पिलाओमम्मी जितना काम करातींउससे ज्यादा  डांट लगातीहोमवर्क सारा करवातींनए खिलौने भी ना लातींनानी मोबाइल रखत...  और पढ़ें
19 घंटे पूर्व
bhonpooo.blogspot.com
2

आ गया अवसान ... ( गीत )

आ गया अवसानलो अब दिवस काआओ साथी चलोअब घर को चलेंदृश्य करलो बंदसुंदर नयन मेंउल्लसित मन लिएअब घर को चलेंसांझ की बेलासुनाती रागनीगुनगुनाते उसेअब घर को चलेंलो सुनो पदचापआती निशा केकर सभी को नम...  और पढ़ें
2 दिन पूर्व
bhonpooo.blogspot.com
3

पिंकी का सपना - बाल गीत

टिमटिम ज्यों बिस्तर पर सोईत्यों ही वह सपनों में खोईशेर एक सपने में आयापर ना गर्जा ना गुर्रायाटिमटिम को देखा मुस्कायाहाथ मिलाकर दोस्त बनायाजंगल की फिर सैर करायासबसे टिमटिम को मिलवायायह देख...  और पढ़ें
3 दिन पूर्व
bhonpooo.blogspot.com
6

खुशियों का व्यापार ... ( बालगीत )

खुशियों का व्यापार निरालाजिसमें लगे छदाम न लालाचोर कोई न इसे चुराएबांटो तो यह बढ़ती जाएना ही टैक्स कोई है इस परना ही निकले कभी दिवालाखुशियों का व्यापार निरालाजिसमें लगे छदाम न लालाखुशियां ...  और पढ़ें
4 दिन पूर्व
bhonpooo.blogspot.com
3

झूला तो पड़ गए ... ( लोकगीत )

जी हां, हरियाला सावन झूम झूम कर आ गया। बादल, बरखा, ठंढ़ी हवा, झूले, कजरी, मल्हार एक साथ इकट्ठे हो जांय तब पक्का जानिए कि सावन ही द्वार पर दस्तक दे रहा है। शहरों में भले ही सावन दबे पांव आता हो, शहरी ज...  और पढ़ें
5 दिन पूर्व
bhonpooo.blogspot.com
2

किताबें - बालगीत

सुनो किताबें क्या कहती हैंहमसे ये बातें करती हैंदूर देश की सैर करातींकथा कहानी खूब सुनातींकभी हमें इतिहास बतातींकभी ज्ञान विज्ञान सिखातींयहां ज्ञान का भरा खजानाजिसने पाया उसने जानापुस्त...  और पढ़ें
6 दिन पूर्व
bhonpooo.blogspot.com
2

कितना मज़बूत है आधार, आधार कार्ड का - भावना की मीडिया क्लास

जब तक आधार कार्ड को मैंने अपने मोबाइल नंबर से लिंक नहीं कराया तब तक मोबाइल कंपनी वालों ने नाक में दम करके रख दिया, जब देखो तब कॉल पे कॉल, मैसेज पे मैसेज। अगर आपने अपना आधार कार्ड बनवा लिया है तो आ...  और पढ़ें
7 दिन पूर्व
bhonpooo.blogspot.com
1

मन बैरागी ना हुआ .... ( दोहे )

सबसे तेज गति मन की कही जाती है। अभी यहां है तो पलक झपकते कितनी दूर चला जाय कुछ कहा नहीं जा सकता है। कहावत है कि जहां न पहुंचे रवि वहां पहुंचे कवि। यह मन की उड़ान ही तो है जो कवि को कहीं भी ले जाती ह...  और पढ़ें
7 दिन पूर्व
bhonpooo.blogspot.com
1

सावन आया ... ( बालगीत )

सावन आया सावन आयाकितने ये सौगातें लायाबादल बरखा संग पुरवाईमधुर राग छेड़े  शहनाईबागों में पड़ गए हैं झूलेलगी होड़ सब में नभ छू लेसखियां गाएं गीत मल्हारपपिहा पी पी करे पुकारबुला रहे सावन के ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
bhonpooo.blogspot.com
2

Media Literate Family -' Bhavna's Media Class

सोते-जागते, उठते-बैठते बस मीडिया लिटरेसी के बारे में ही विचार चलता रहता है। सोचती हूँ कैसे आएगी मीडिया लिटरेसी ? लोग क्यों ये जानने में इंटरेस्टेड होंगे की क्या है मीडिया लिटरेसी ? आखिर इसकी क्...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
bhonpooo.blogspot.com
0

मच्छरमार - बालगीत

मच्छर हूं घर घर में रहताखास बात कानों में कहताछोटा हूं लेकिन बलवानभय खाते मुझसे इंसानमलेरिया डेंगू हथियारजिनसे मैं करता हूं वारसीलन और गंदगी भातीमुझे सफाई नहीं सुहातीअरबों का करते व्यापा...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
bhonpooo.blogspot.com
0

साइड इफेक्ट रंग रंग के - हास्यव्यंग

साधो, हमारे बुजुर्ग तो हरदम ही यह कहते आए हैं कि कोई भी चीज न तो पूरी तरह अच्छी होती है ना ही एकदम से   खराब। यानी अच्छाई में भी बुराई छिपी होती है और हमें सिक्के के दोनो पहलुओं पर बराबर नजर रखनी ...  और पढ़ें
2 सप्ताह पूर्व
bhonpooo.blogspot.com
2

बिल्ली मौसी का प्यार - बालगीत

मैं हूं बिल्ली मौसी बेटाआई तुमसे मिलनेदिल में प्यार भरा है मेरेलगे क्यों मुझसे डरनेदेखो तो ये चाकलेटगुब्बारे और खिलौने तुम लोगों की खातिर लाईतुम सब मेरे अपनेचूहे बोले प्यारी मौसीआई हो तु...  और पढ़ें
2 सप्ताह पूर्व
bhonpooo.blogspot.com
3

सूजा - कहानी

कहानी कोई खास नहीं थी पर राजन भाई जब पीछे पड़ गए तो कहां जान बच सकती थी। बिल्कुल बच्चों की तरह जिद करने लगते हैं। गनीमत है कि बच्चों की तरह जमीन पर लोटने नहीं लगते। स्टडीरूम में ंमेरे हाथ में य...  और पढ़ें
2 सप्ताह पूर्व
bhonpooo.blogspot.com
2

जीएसटी की लपट से ... ( सामयिक दोहे )

30 जून की आधी रात के पहले तक मैं वन नेशन वन टैक्स के नारे सुन सुन बहुत खुश होता रहा कि चलो कर प्रकिया सरल होने से सभी को कुछ न कुछ राहत तो मिलेगी। पर इस नाचीज़ की खुशी जल्द ही गधे के सिर से सींग की तर...  और पढ़ें
2 सप्ताह पूर्व
bhonpooo.blogspot.com
2

नन्हें कंधे बस्ते भारी - बालगीत

नन्हें कंधे बस्ते भारीदेखो तो कैसी लाचारीगली गली कान्वेंट खुले परएडमीशन की मारामारीशिक्षा की दूकान चलातेये तो हैं पक्के व्यापारीड्रेस बस्ते जूते तक बेंचेंकाट रहे हैं जेब हमारीगूंगी बहरी ...  और पढ़ें
2 सप्ताह पूर्व
bhonpooo.blogspot.com
2

अमरनाथ यात्रा पर आतंकी हमला - प्रसंगवश

अमरनाथ यात्रा के श्रद्धालुओं पर देश के दुश्मनों द्वारा किया गया आतंकी हमला सबसे निंदनीय, मानवता के खिलाफ जघन्य अपराध है जिसके लिए उन्हें भरपूर दंडित किया ही जाना चाहिये। पूरे देश में इसके प्...  और पढ़ें
2 सप्ताह पूर्व
bhonpooo.blogspot.com
2

खिलौने - बालगीत

हर युग में ही रहे खिलौनेबच्चों के प्रिय सदा खिलौनेखेलों से है सबका नातापशु पक्षी सबको यह भातापर अपने बच्चों की खातिरइंसानो ने गढ़े खलौनेमिट्टी से हर कुछ बन जातामन चाहा आकार है पाताइसीलिए तो ...  और पढ़ें
2 सप्ताह पूर्व
bhonpooo.blogspot.com
4

प्यारा इतवार - बालगीत

सात दिनो में सबसे प्यारालगता बस इतवार हैलेकिन करना पड़ता इसकाछह दिन तक इंतजार हैछह दिन पढ़ते पढ़ते थकताकितना अत्याचार हैसेटाक्लाज सा संडे आताढ़ेरों ले उपहार हैदेर से आता जल्दी जाताहमें नह...  और पढ़ें
3 सप्ताह पूर्व
bhonpooo.blogspot.com
1

कर्ज मुक्ति - सामयिक दोहे

यह सच है कि कर्ज माफी किसानों की समस्याओं का कारगर हल नहीं है। हां, इससे फौरी राहत मिल सकती है जो कभी कभी जरूरी भी होती है। लेकिन कर्ज माफी का ढ़िढ़ोरा अब तक सरकारें इस तरह से पीटती रही हैं मानो व...  और पढ़ें
1 माह पूर्व
bhonpooo.blogspot.com
7

मीडिया लिटरेसी बिन न होगा गुज़ारा - (भावना की मीडिया क्लास)

आज जिस कदर मीडिया ने हमारी ज़िन्दगी में अपनी जगह बना ली है और वह रोटी, कपडा, मकान और अच्छी शिक्षा की तरह हमारी मूलभूत आवश्यकता बन गया है उसे देखते हुए हम मीडिया को नकार नहीं सकते। ख़बरों, मनोरंजन, व...  और पढ़ें
1 माह पूर्व
bhonpooo.blogspot.com
7

झिलमिल झिलमिल करते तारे - बालगीत

झिलमिल झिलमिल करते तारेलगते कितने प्यारे प्यारेउलट दिया हो थाल किसी नेबिखर गये हों मोती सारेआंख मिचौनी खेल रहे होंआसमान में चांद सितारेटिम टिम टिम वे करें इशारेमुझे बुलाते आ रे आ रेअंतरिक्...  और पढ़ें
1 माह पूर्व
bhonpooo.blogspot.com
7

होमवर्क - बालगीत

होमवर्क से कोई बचाओइसको हमसे दूर हटाओहम बच्चों का दुश्मन भारीखुशियां छीने रोज हमारीपढ़ लिख जब स्कूल से आतेनहीं खेलने जी भर पातेमम्मी पकड़ मुझे ले जातींहोमवर्क सारा करवातींथक जाता हूं लिखत...  और पढ़ें
1 माह पूर्व
bhonpooo.blogspot.com
6

चोर - दादी नानी की कहानियां

आजकल के इंटरनेट युग में छोटे छोेटे बच्चे बड़े बड़ों के कान काटते हैं। पहले ऐसा न था। बच्चे तो बच्चे बड़े भी सीधे- साधे सरल हृदय वाले होते थे। यह कहानी उसी जमाने की है। एक गांव में भोलानाथ नाम का ...  और पढ़ें
1 माह पूर्व
bhonpooo.blogspot.com
7

मन करता भौंरा बन जाऊं - कविता

मन करता भौंरा बन जाऊंगुन गुन गुन गुन गाऊंफूलों ने जो गीत सिखाएसबको उन्हें सुनाऊंकलियों ने क्या जादू डालाझूमे मन मतवालासुध बुध खोकर फिरे बावरापिये प्रेम की हालामादक हवा सभी को बांटेखुशियों ...  और पढ़ें
1 माह पूर्व
bhonpooo.blogspot.com
4

दिन ढल गया... ( कविता )

दिन ढल गया लौटते पंछीअपने अपने नीड़ कोपंख थकेहै मन भी व्याकुलबच्चों से मिलने को आतुरकैसे होंगे क्या खाया हैखतरा तो कुछ ना आया हैचीं चीं चीं चीं बोलें बच्चे लगते हैं वे कितने अच्छेदाना पाने ...  और पढ़ें
1 माह पूर्व
bhonpooo.blogspot.com
5

श्राप - लघुकथा

छप्पन के सामने गाड़ी से उतर कर माधुरी कुछ ही कदम आगे बढ़ी थी कि किसी ने पीछे से उसकी आंखें अपनी दोनो हथेलियों से बंद कर लीं। कुछ देर वह हथेलियों को छूकर अनुमान लगाती रही फिर अचानक बोल पड़ी- सल्ल...  और पढ़ें
1 माह पूर्व
bhonpooo.blogspot.com
3

आंदोलन हड़ताल से ... ( सामयिक दोहे )

कहते हैं मुसीबतें आती हैं तो चारो तरफ से आती हैं। लोगबाग बैंकों के सामने लंबी कतार में घंटों लाइन में लगकर खड़े होने के गम को धीरे धीरे भूलने की कोशिश कर ही रहे थे कि किसान आंदोलन ने आकर पीठ पर ए...  और पढ़ें
1 माह पूर्व
bhonpooo.blogspot.com
6

पंख कहीं जो मेरे होते - बालगीत

पंख कहीं जो मेरे  होतेचिड़ियों के संग उड़ते उड़तेदूर दूर तक जाताहरे भरे खेतों बागों की सैरमुफ्त कर आताबड़े ठाठ तब अपने होतेपंख कहीं जो मेरे होतेऊंचे पेड़ों की फुनगी छूकरमैं खुश हो जातातोत...  और पढ़ें
1 माह पूर्व
bhonpooo.blogspot.com
6

बज्र सी छाती को भी ... ( मुक्तक )

बज्र सी छाती को भी हमने दरकते देखाकर्ज के जाल में दम तोड़ते कृषक देखामंच से जय जवान जय किसान के नारेलगाते नेता जी को आए दिन हमने देखा2.कभी तो बाढ़ बहा ले गई खुशियां सारीकभी आ सूखे ने उनकी उजाड़ी ...  और पढ़ें
1 माह पूर्व
bhonpooo.blogspot.com
6
Postcard
फेसबुक द्वारा लॉगिन  
हो सकता है इनको आप जानते हो!  
vikash kumar
vikash kumar
moradabad,India
hem lata srivastava
hem lata srivastava
delhi ,India
bhaumika
bhaumika
Kurukshetra,India
xanax buy online
xanax buy online
hMxBOJPyqGmiLumg,
Sahitya Samhita
Sahitya Samhita
New Delhi,India
rajeshrawat
rajeshrawat
ujjain,India