ख़ुदा के वास्‍ते ! की पोस्ट्स

उर्दू अदब में बहुत बड़ा नाम है शीन काफ़ निज़ाम, आज इनके जन्‍मदिन पर पढ़िए उनकी गजलें

26 नवंबर 1947 को राजस्‍थान के जोधपुर में जन्‍मे शीन काफ़ निज़ाम का नाम उर्दू अदब में बहुत बड़ा है। उनका वास्तविक नाम शिव कुमार है जिसको वह उर्दू में शीन काफ़ लिखते हैं।शिव किशन उर्दू में शीन काफ ह...  और पढ़ें
2 सप्ताह पूर्व
ख़ुदा के वास्‍ते !
0

मेरठ बाेर्न पाकिस्तान की मशहूर शायरा फ़हमीदा रियाज़ का निधन

पाकिस्तान की मशहूर शायरा और मानवाधिकार कार्यकर्ता फ़हमीदा रियाज़पाकिस्तान की मशहूर शायरा और मानवाधिकार कार्यकर्ता फ़हमीदा रियाज़ का लंबी बीमारी के बाद लाहौर में निधन हो गया है। एक दर्जन ...  और पढ़ें
3 सप्ताह पूर्व
ख़ुदा के वास्‍ते !
0

क्लासिक साहित्य को समर्पित Penguin का पुस्‍तक मेला एक नवंबर से

Penguin रैंडम हाउस इंडिया पुस्तक प्रेमियों के लिए एक नवंबर से एक मेले का आयोजन करने जा रहा है. एक महीने तक चलने वाला यह मेला पूरी तरह प्रकाशन घर के क्लासिक साहित्य को समर्पित होगा.‘द Penguin क्लासिक्स फ...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
ख़ुदा के वास्‍ते !
0

कथाकार रामधारी सिंह दिवाकर को वर्ष 2018 का श्रीलाल शुक्ल स्मृति साहित्य सम्मान

वरिष्ठ कथाकार रामधारी सिंह दिवाकर को वर्ष 2018 का श्रीलाल शुक्ल स्मृति साहित्य award दिये जाने की घोषणा की गयी है. रामधारी सिंह दिवाकर की इन कहानियों में गाँव का जटिल यथार्थ आद्यंत उपलब्ध है। गाँ...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
ख़ुदा के वास्‍ते !
0

कन्हैयालाल नंदन की पांच कविता, आज नंदन जी की पुण्‍यतिथि है

प्रसिद्ध पत्रकार और साहित्यकार कन्हैयालाल नंदन का जन्म 1 जुलाई 1933 को यूपी के फतेहपुर में हुआ था। उनका निधन दिल्‍ली के रॉकलैंड अस्पताल में 25 सितम्बर 2010 को हुआ। पद्म श्री, भारतेंदु पुरस्कार, अज्ञ...  और पढ़ें
3 माह पूर्व
ख़ुदा के वास्‍ते !
0

काका हाथरसी के आज जन्‍मदिन पर उनके द्वारा लिखी गई रचना ‘दहेज की बारात’

काका हाथरसी के नाम से मशहूर हिंदी के हास्य कवि प्रभुलाल गर्ग का जन्‍म 1906 में हुआ था। उनकी शैली की छाप उनकी पीढ़ी के अन्य कवियों पर तो पड़ी ही, आज भी अनेक लेखक और व्यंग्य कवि काका की रचनाओं की शैली...  और पढ़ें
3 माह पूर्व
ख़ुदा के वास्‍ते !
0

जब अमृता केे दिल और कलम से निकला- इमरोज़... ''मैं तैनूं फिर मिलांगी''

आज मेरी पसंदीदा लेखिका अमृता प्रीतम का जन्‍मदिन है और आज ही मेरी बेटी का भी, ये इत्‍तिफाक भी हो सकता है और इच्‍छित कामना भी... अमृता को आजीवन असंतुष्‍ट प्रेमिका, रूह तक लेखनी को ले जाने वाली लेखि...  और पढ़ें
3 माह पूर्व
ख़ुदा के वास्‍ते !
0

कृष्ण की कविताएं लिखने वाले बांग्ला कवि नजरूल की पुण्‍यतिथि पर विशेष

बांग्ला के प्रसिद्ध कवि काजी नजरूल इस्लाम का जन्म 24 मई 1899 को हुआ था। निधन 29 अगस्त 1976 को हुआ। भगवान कृष्ण पर उनकी 5 प्रसिद्ध रचनाएं उनकी पुण्यतिथि पर काव्य के पाठकों के लिए…अगर तुम राधा होते श्याम...  और पढ़ें
3 माह पूर्व
ख़ुदा के वास्‍ते !
0

कृष्‍ण को वीर रस में प्रस्‍तुत करने वाले शायर थे हफीज़ जालंधरी

भारत पाकिस्‍तान के बीच रिश्तों में तल्ख़ी के साथ साथ अभी भी कहीं ना कहीं कोई ना कोई कड़ी जुड़ती हुई दिखाई दे ही जाती है, ऐसी ही एक कड़ी थे हफीज जालंधरी साहब। हालांकि आज ना तो उनका जन्‍म दिन है और ...  और पढ़ें
4 माह पूर्व
ख़ुदा के वास्‍ते !
0

सोहर, चैती और होली गाकर हमें झुमाने वाले पं. छन्नूलाल मिश्र

वाराणसी। सोहर, चैती और होली खासकर ”खेलें मसाने में होली दिगंबर..खेले मसाने में होली..” को अपने सुरों में ढालने वाले और पूरब अंग की गायिकी के पहचान पं. छन्नूलाल मिश्र के किसे झूमने पर विवश न कर दे...  और पढ़ें
4 माह पूर्व
ख़ुदा के वास्‍ते !
0

हँसी थमी है इन आँखों में यूँ नमी की तरह

क्‍या हम भी उनके दर्द को महसूस कर सकते हैं, जी हां आज ट्रेजडी क्‍वीन मीना कुमारी का जन्‍मदिन हैआज ट्रेजडी क्‍वीन मीना कुमारी का जन्‍मदिन है। इस अवसर पर अमिताभ बच्‍चन का कहा याद आता है कि हर डाय...  और पढ़ें
4 माह पूर्व
ख़ुदा के वास्‍ते !
0

क्‍या आपको भी याद हैं वो रिवर्स गियर वाली कवितायें

पिछले एक सप्‍ताह से कभी रुक कर तो कभी तेज बारिश हो रही है। मुझे अपना बचपन याद आ रहा है। शायद आपको भी याद आ रहा होगा। गाहे ब गाहे आप भी अपने आसपास जो भी मौजूद होगा उसे बारिश के मौसमसे जुड़ी बचपन की ...  और पढ़ें
5 माह पूर्व
ख़ुदा के वास्‍ते !
0

कालजयी कृति ‘बिदेसिया’ के रचयिता भिखारी ठाकुर की पुण्यतिथि आज, बिदेसिया का Video देखिए

आज भिखारी ठाकुर की पुण्यतिथि है. इस बार की पुण्यतिथि खास है. भिखारी ठाकुर की प्रदर्शन कला का, जिसे पॉपुलर शब्द में नाच कहा जाता है, यह 100वां साल है.एक सदी पहले वह बंगाल में हजाम का काम करने के दौरा...  और पढ़ें
5 माह पूर्व
ख़ुदा के वास्‍ते !
0

जनता मुझसे पूछ रही है क्या बतलाऊं, जन कवि हूं मैं साफ कहूंगा क्यों हकलाऊं

हरफनमौला कवि बाबा नागार्जुन के जन्‍मदिवस पर विशेषबाबा नागार्जुन का जन्‍म 30 जून 1911 को वर्तमान मधुबनी जिले के सतलखा, हुसैनपुर में हुआ था। यह उन का ननिहाल था।उनका पैतृक गाँव वर्तमान दरभंगा जिले ...  और पढ़ें
5 माह पूर्व
ख़ुदा के वास्‍ते !
0

साल 2018 का साहित्य अकादमी युवा पुरस्कार ”चौकीदार” के नाम

“हम नवटोली गांव के चौकीदार हैं. गांव के माहौल में जो देखते हैं, वो लिख देते हैं. कविता मेरे लिए टॉनिक की तरह है. ”बातचीत के दौरान 34 साल के उमेश पासवान ये बात कई बार दोहराते हैं.उमेश को उनके कविता स...  और पढ़ें
5 माह पूर्व
ख़ुदा के वास्‍ते !
0

आज तो सुमित्रानंदन पंत का जन्‍मदिन है, पढ़िए उनकी दो कवितायें

फोटो: प्रसार भारती से साभारआज तो सुमित्रानंदन पंत का जन्‍मदिन है, तो चलिए इसी बात पर हो जाए उनकी दो कविताऐं जो हमें अपनी जड़ों तक ले जायेंगी।  वरना कौन ऐसा कर सकता है कि सात वर्ष की उम्र में, ...  और पढ़ें
7 माह पूर्व
ख़ुदा के वास्‍ते !
8

आज विश्‍व कविता दिवस पर विशेष...संस्कृत काव्यशास्त्र में महाकाव्य के प्रस्‍तुतकर्ता कौन थे

आज विश्‍व कविता दिवस है परंतु क्‍या हम जानते हैं कि संस्कृत काव्यशास्त्र में महाकाव्य (एपिक) का प्रथम सूत्रबद्ध लक्षण आचार्य भामह ने प्रस्तुत किया है और परवर्ती आचार्यों में दंडी, रुद्रट तथा...  और पढ़ें
9 माह पूर्व
ख़ुदा के वास्‍ते !
19

आज राही मासूम रजा की पुण्‍यतिथि है…

”कर्ज उतर जाता है एहसान नहीं उतरता” के ये शब्‍द हमने रजा साहब का संस्‍मरण लेख से हिंदी समय से साभार लिया हैयहाँ (बंबई में) कई दोस्त मिले जिनके साथ अच्छी-बुरी गुजरी। कृष्ण चंदर, भारती, कमलेश्...  और पढ़ें
9 माह पूर्व
ख़ुदा के वास्‍ते !
15

आज अज्ञेय के जन्‍मदिन पर बावरा अहेरी सहित 3 कविताऐं

आज 7 मार्च, 1911 को कसया, उत्‍तरप्रदेश में अज्ञेय का जन्म हुआ, शिक्षा का प्रारम्भ संस्कृत-मौखिक परम्परा से हुआ 1915 से ’19 तक श्रीनगर और जम्मू में। यहीं पर संस्कृत पंडित से रघुवंश रामायण, हितोपदेश, फार...  और पढ़ें
9 माह पूर्व
ख़ुदा के वास्‍ते !
16

Gabriel García Márquez के जन्‍मदिन पर पढ़िए उनकी लिखी कहानी- ऐसे ही किसी दिन

गूगल ने आज कोलंबियाई मूल के लेखक Gabriel García Márquez की 91वीं जयंती पर डूडल बनाकर मशहूर हुए इस साहित्‍यकार को याद किया है।गैब्रियल गार्सिया मार्खेज की किताब ‘हंड्रेड ईयर्स ऑफ सॉलिट्यूड’ ने उन्हें दुनि...  और पढ़ें
9 माह पूर्व
ख़ुदा के वास्‍ते !
24

निराला के शब्‍द-क्रीड़ांगन में यमुना-गान

आज के दिन 16 फरवरी 1896- हिंदी के सुप्रसिद्ध कवि, साहित्यकार और लेखक सूर्यकांत त्रिपाठी निराला का जन्म हुआ था, हालांकि विकीपीडिया पर 21 फरवरी अंकित है परंतु पंचांग-तिथि के अनुसार इनके जन्‍म के संबं...  और पढ़ें
10 माह पूर्व
ख़ुदा के वास्‍ते !
16

आज महाशिवरात्रि पर जानिए- क्‍या है महामृत्युंजय मंत्र की पूर्ण व्‍याख्‍या

आपने अकसर देखा सुना होगा धार्मिकजन किसी शारीरिक व मानसिक परेशानियों को दूर करने के लिए महामृत्युंजय मंत्र की आराधना-जाप के बारे में बताते हैं मगर ऐसा क्‍यों, यह जानने के लिए इस महामंत्र की व्...  और पढ़ें
10 माह पूर्व
ख़ुदा के वास्‍ते !
22

Nida Fazli साहब ने हमेशा रोटी, चटनी और मां से जुड़े लफ़्जों को जिया

भारत सरकार द्वारा पद्मश्री से नवाजे गए निदा फ़ाज़ली की आज पुण्‍यतिथि है, उन्‍होंने आज ही के दिन 8 फरवरी 2016 को मुंबई में इस दुनिया को अलविदा कहा।निदा फ़ाज़ली हिंदुस्तानी तहजीब में ‘वाचिक-परंपर...  और पढ़ें
10 माह पूर्व
ख़ुदा के वास्‍ते !
18

आज सुमित्रानंदन पंत की पुण्‍यतिथि है इस अवसर पर उनकी कुछ कविताएँ

आज सुमित्रानंदन पंत की पुण्‍यतिथि है इस अवसर पर उनकी कुछ कविताएँ सुमित्रानंदन पंत (२० मई १९०० - २८ दिसम्बर १९७७)  हिंदी साहित्य में छायावादी युग के चार प्रमुख स्तंभों में  से एक हैं। छाया...  और पढ़ें
11 माह पूर्व
ख़ुदा के वास्‍ते !
16

30 दिस. पुण्‍यतिथि है हिंदी गज़ल के पहले शायर दुष्यंत कुमार की, पढ़िए ये चुनिंदा रचनाएं

हिंदी गज़ल के पहले शायर और सत्ता के खिलाफ मुखर होकर खड़े होने वाले लेखक दुष्यंत कुमार की आज पुण्‍यतिथि है. उनकी गज़लों के कुछ शेर युवाओं की ज़ुबां पर चढ़े हुए हैं. 1 सितंबर 1933 को उत्तर प्रदेश के र...  और पढ़ें
1 वर्ष पूर्व
ख़ुदा के वास्‍ते !
27

एक एक कर चले जा रहे हैं सभी...कुंवर नारायण जी को उन्‍हीं की 5 कविताओं से हम श्रद्धांजलि देते हैं

एक एक कर चले जा रहे हैं सभी...आज 'अयोध्‍या 1992'पर कविता से भगवान श्री राम को मौजूदा हालात के प्रति आगाह करने वाले कवि-साहित्‍यकार कुंवर नारायण जी भी चले गए। मैं आज उनको उन्‍हीं की कुछ कविताओं के द्...  और पढ़ें
1 वर्ष पूर्व
ख़ुदा के वास्‍ते !
16

सबसे बड़ा हिन्‍दी उपन्‍यास ‘कृष्ण की आत्मकथा लिखने वाले मनु शर्मा को विनम्र श्रद्धांजलि

सबसे बड़ा हिन्‍दी novel लिखने वाले प्रख्‍यात साहित्यकार लेखक व चिंतक पद्मश्री मनु शर्मा का निधन हो गया। स्‍वच्‍छ भारत अभियान के नवरत्‍नों में शामिल थे मनु शर्मा। वरिष्ठ साहित्यकार और हिन्दी म...  और पढ़ें
1 वर्ष पूर्व
ख़ुदा के वास्‍ते !
18

‘मैं चमारों की गली तक ले चलूंगा आपको’

अदम गोंडवी के जन्‍मदिन पर उनकी poemआज अदम गोंडवी का जन्‍मदिन है इस अवसर पर उनकी poem ‘मैं चमारों की गली तक ले चलूंगा आपको’ की बात ना की जाए यह कैसे हो सकता है.सामाजिक आलोचना के प्रखर कवि अदम गोंडवी की...  और पढ़ें
1 वर्ष पूर्व
ख़ुदा के वास्‍ते !
27

एक श्रृद्धांजलि: याचना

आज रामधारी सिंह 'दिनकर'का जन्‍म दिन है तो लीजिए  पढ़िए उनकी ये रचना जो उनकी 'रेणुका'से ली गई है जिसे दिनकर ने १९३४ में लिखा था -याचना / रामधारी सिंह "दिनकर"प्रियतम! कहूँ मैं और क्या?शतदल, मृदुल जीव...  और पढ़ें
1 वर्ष पूर्व
ख़ुदा के वास्‍ते !
33

नाज सच्चे इश्‍क पर है, हुनर का दावा नहीं... मेरा इर्फाने-कलम सालक ही कोई पाएगा

बादलों से लेकर चांद पर अपने शब्‍दों  के दस्‍तखत करने वाली अमृता प्रीतम 31 अगस्‍त को ही जन्‍मी थीं और  आज ही यानि 31 अगस्‍त को मेरी बेटी का भी जन्‍म दिन है...शायद इसीलिए मुझे अब और भी प्रिय लगती ...  और पढ़ें
1 वर्ष पूर्व
ख़ुदा के वास्‍ते !
30
Postcard
फेसबुक द्वारा लॉगिन  
हो सकता है इनको आप जानते हो!  
aniket
aniket
shivpuri ,madhya pradesh,India
Ritika Rastogi
Ritika Rastogi
Lucknow,India
Babita Singh
Babita Singh
Ghaziabad,India
mahendra kumar meena
mahendra kumar meena
jaipur,India
Mohammad Aadil
Mohammad Aadil
Beawar,India
Ameer Nehtauri
Ameer Nehtauri
Bijnor,India