@Abhi की पोस्ट्स

Quote on beti

साँसें छीन ले तू, मेरे पर कुतरने से पहलेखुदाया तेरी ज़मीं पर सियासत बहुत है!PC: GOOGLE...  और पढ़ें
13 घंटे पूर्व
@Abhi
1

आहत भारत

नीलाभ छितरे गगन के तलेभावनाओं से बंजर जमीं परश्वेत शांति मध्य में समेटेगति की आभा, के&...  और पढ़ें
6 दिन पूर्व
@Abhi
3

यादों की सीलन पर ठहरी धूप: भाग- III

अंतिम भागशिव अपनी बात कह चुके हैं और शायद सही भी कहा..बुरे वक़्त की भरपाई कहीं से भी नहीं ...  और पढ़ें
7 दिन पूर्व
@Abhi
4

सज़ायाफ़्ता स्त्री

स्त्री हूँ मैंस्वाभिमान की पराकाष्ठा तक जाती हूँ,प्रेम करती हूँ वो भी प्रगाढ़खुद को म&#...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
@Abhi
2

दर्द हूँ फिर भी दुखता हूँ

आतंक से जन्मा दर्द हूँ मैं,मेरे गर्भ में छिपी हैंवहशियत की दास्तानें;काल के कपाल परता&...  और पढ़ें
2 सप्ताह पूर्व
@Abhi
5

Quote on Flood

2 सप्ताह पूर्व
@Abhi
6

Quote on Road

2 सप्ताह पूर्व
@Abhi
5

यादों की सीलन पर ठहरी धूप: भाग- II

गतांक से आगेये वक़्त ऐसे लग रहा था जैसे प्रेम का एक सिरा छोड़कर दूसरा थाम लिया हो, मेरे और ...  और पढ़ें
2 सप्ताह पूर्व
@Abhi
4

तुम ही नहीं तो...

उन होठों से लगा चाय का प्यालाया हो मेरे भूखे पेट का निवालान हो वो तो सब स्वाद फ़ना हैदोसî...  और पढ़ें
2 सप्ताह पूर्व
@Abhi
5

यादों की सीलन पर ठहरी धूप: भाग- I

जाने क्यों आज इतवार के दिन भी मन किया कि बिस्तर जल्दी छोड़ दूँ। चाय का पैन स्टोव पर रखा प...  और पढ़ें
3 सप्ताह पूर्व
@Abhi
4

जन्मदिवस की असीम शुभकामनाएं

जन्मदिन पर बधाई देनाबीमा की प्रीमियम भुगतान जैसा हैहर वर्ष नियत समय परभले ही किसी का&#...  और पढ़ें
3 सप्ताह पूर्व
@Abhi
6

ये किस्से भी न...

झूठ के पांव से चलते हैं किस्सेबहुत लंबी होती है इनकी उमरहर मुसाफिरखाने पर रुकते हैंक&#...  और पढ़ें
4 सप्ताह पूर्व
@Abhi
4

तब भी हम होंगे...

PICTURE CREDIT:SHUTTERSTOCKहमारे बाद हम...क्या कहाकहीं नहीं होंगे????धत्त्तत..तभी तो हम होंगेजब भी खोलोगे यादों कोजंग लगी चूलें चरमराएँगी,तुम उस बहँगी में लटके मुस्कराओगे,न्यूटन की बातों में कितने टन का वजन थाह...  और पढ़ें
4 सप्ताह पूर्व
@Abhi
6

साइनाइड

तोहमत के गीले तौलिए सेदर्द में तपता बदन पोछते हुएतुम्हारे शब्दों से उभरा हर फफोला रि&#...  और पढ़ें
1 माह पूर्व
@Abhi
6

...ओ लड़कियों

ओस की बूंद से भीगने वाली लड़कियोंकैसे सीखोगी तुम दर्द का ककहरा,आटा गूंधते हुएनेल पेंट &...  और पढ़ें
1 माह पूर्व
@Abhi
7

हमें मोक्ष चाहिए

अंजलि में पुष्प और जल सजाकरगंगा के घाट परतर्पण को आओगे न!मंत्रोच्चार में कुछ सिसकिया&#...  और पढ़ें
1 माह पूर्व
@Abhi
6

मेरी पहली पुस्तक

http://www.bookbazooka.com/book-store/badalte-rishto-ka-samikaran-by-roli-abhilasha.php...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
@Abhi
3
@Abhi
4

न तुम जानो न...

सुख मेरी आँखों का दुःख मेरे अंतर का या तुम जानो या मैं जानूँ,उष्मित होता है जब प्रेम,...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
@Abhi
7

न तुम जानो न...

सुख मेरी आँखों का दुःख मेरे अंतर का या तुम जानो या मैं जानूँ,उष्मित होता है जब प्रेम,...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
@Abhi
6

इंसाफ

महिला: साहब हमारे मरद ने हमको बेल्ट से बहुत पीटा। इसकी रिपोर्ट लिखिए।थानेदार: मगर तेर&...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
@Abhi
4

स्वीकृति

बदन दर्द से तप रहा है और बुखार है कि उतरने का नाम नहीं ले रहा। उठने से मजबूर हूँ डॉक्टर क...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
@Abhi
12

माँ तो बस माँ होती है..

तान्या बहुत खुशी-खुशी नेल पेंट कर रही थी और बीच-बीच तुषार की आवाज भी सुनती जा रही थी। वो ...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
@Abhi
7

Quote on Eid

2 माह पूर्व
@Abhi
8

रिश्तों की उलझनें

रिश्ते बदल जाते हैं आँखों की ओटपरस्नेहकी डगरसे पलटकरतो देखिए।...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
@Abhi
12

तुम साथ हो जब अपने...

इस रिवाल्वर में बस दो ही गोलियां हैं..अभी नहीं विशेष आ जाएं तब..एक उनके लिए और एक मेरे लिए, ...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
@Abhi
17

Quote on warm blow of wind

2 माह पूर्व
@Abhi
13

क्या यही तरक्की है?

मेरी माँअब भीखोजती हैएक ऐसा घरजिसमेतुलसी वाला आँगन होहौले-हौले धूप उतरती होजिसकी चौखटों परऔर उसे रोकता हुआएक नीम का पेड़जिस परदिन भर रहती होचिड़ियों की चहचहाहटक्योकिबंद कमरों की घुटनउसे नी...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
@Abhi
15

Quote on beginning

2 माह पूर्व
@Abhi
11

Quote on endeavor

Pic Credit: Paul Nil Dada...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
@Abhi
7
Postcard
फेसबुक द्वारा लॉगिन  
हो सकता है इनको आप जानते हो!  
vijay prakash
vijay prakash
ghaziabad,India
vikas yadav
vikas yadav
shahganj,India
rahul raikwar
rahul raikwar
sagar,0
yhynlhnssr
yhynlhnssr
LYLjTRQDoBFg,Greenland
MOTI RAM NEGI
MOTI RAM NEGI
Shimla,India
मिलन
मिलन
,India