अधूरा सच की पोस्ट्स

नेह का उजास

अपनों के संगम  में ,नेह का उजास  है .मन  में उद्गारों  का ,दहका पलास  है .   साँसों  के सरगम  पर ,   भौरों  का ज्वार है .   यौवन  के आँगन  में ,   खिलती कचनार है .तन  में उफनती ...  और पढ़ें
11 माह पूर्व
अधूरा सच
5

टूट गई

टूट गई जो एक बार तो ,नींद नहीं आई दोबारा .   जेहन में किस्तें बैठी हैं ,   घर की, मन की औ'जीवन की .   ब्याज बड़ा, पूँजी छोटी है ,   जीवन रूपी मुक्त गगन की .नया माह आते ही आती ,कुदरत की काई दोबार...  और पढ़ें
11 माह पूर्व
अधूरा सच
7

स्वार्थी युग हो गया है

स्वार्थी युग हो गया हैमर रही संवेदनाअब हलाकू घूमते हैंमौत की टोली बनाहर तरफ संत्रास काफैला हुआ है कोहराफूल लगते कागजी सबसब्जियों पर रंग हरासच अनावृत्त हो रहा हैझूठ की गोली बनाझुग्गियों में...  और पढ़ें
11 माह पूर्व
अधूरा सच
4

मौन से संवाद

अब गुलाबों के गए दिननागफनियाँ राज करती.कंटकों का आवरण ले,मौन से संवाद करती .आँधियाँ हैं नफरतों कीप्रेम का सद्भाव कम है,खो गया सुख का सवेराहर तरफ दुर्भाव तम है.भूलकर आलोक के दिनकालिमा फरियाद कर...  और पढ़ें
11 माह पूर्व
अधूरा सच
4
 
Postcard
फेसबुक द्वारा लॉगिन  
हो सकता है इनको आप जानते हो!  
vijay yadav
vijay yadav
kanpur,India
trisha
trisha
Goa,India
RD Prajapati
RD Prajapati
Jamshedpur,India
ravikumar
ravikumar
buxar,India
sanjay singh
sanjay singh
varanasi,India