दाना-पानी की पोस्ट्स

जल संरक्षण का अदभुत नमूना- सज्जनगढ़ पैलेस (मानसून पैलेस)

करणी माता मंदिर से वापसी के बाद हम आटो में सवार होकर चल पड़े हैं सज्जनगढ़ पैलेस की ओर। यह पैलेस शहर के बाहर है पर शहर के हर इलाके से दिखाई देता है। सज्जन गढ़ पैलेस की तलहटी में आटो वाले ने पार्कि...  और पढ़ें
1 माह पूर्व
दाना-पानी
0

उदयपुर में रोप वे से करणी माता का मंदिर तक

सिटी पैलेस घूमने के बाद भूख लग गई है। रास्ते में रुककर हल्की से पेटपूजा करके हमलोग चल पड़े हैं अगली मंजिल की ओर। दूध तलाई उदयपुर शहर का दूसरा प्रमुख ताल है। यह आकार में छोटा है। इसी दूध तलाई के ...  और पढ़ें
1 माह पूर्व
दाना-पानी
0

तेलियों वाली माता और मोची समाज के सांवरिया

भला भगवान की कोई जाति होती है क्या। आप कहेंगे नहीं। पर हिंदू धर्म की सबसे बड़ी बुराई उसकी जाति व्यवस्था ही है। हम आपस में जातियों में बंटे हुए हैं, पर इतना ही नहीं हमने भगवान को भी जातियों में ब...  और पढ़ें
1 माह पूर्व
दाना-पानी
0

झीलों को बचाएं तभी बचेगा शहर

झीलें उदयपुर शहर की शान हैं। शहर की पहचान है। अलग अलग मेवाड़ राजाओं ने पानी की कीमत को पहचानते हुए जल संरक्षण के लिए इन झीलों का निर्माण कराया। पर संरक्षण के लिहाज से देखें तो ये झीलें भी उपेक्...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
दाना-पानी
0

झीलों की नगरी उदयपुर - लेक पिछोला से फतेहसागर तक

उदयपुर को झीलों का शहर कहते हैं। शहर के अंदर पांच प्रमुख झीले हैं । शहर के आसपास भी कई झीले हैं जो अलग अलग मेवाड़ राजाओं द्वारा बनवाई गईं। तो इस शहर की सबसे बड़ी झील है पिछोला झील। पिछोला झील तक...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
दाना-पानी
0

सिटी पैलेस उदयपुर – मेवाड राजाओं की समृद्ध विरासत के रंग

तो हम फिलहाल चल पड़े हैं सिटी पैलेस की ओर। सिटी पैलेस में प्रवेश के लिए दो द्वार हैं। एक द्वार जगदीश मंदिर के पास है। पर हमारा आटो रिक्शा दूसरे द्वार के पास ले गया है। जगदीश मंदिर के पास वाले गे...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
दाना-पानी
0

उदयपुर – हिंदी फिल्मकारों की सदाबहार पसंद

अगर कोई ये पूछे कि मुंबई के बाद फिल्मकारों के लिए फिल्मों की शूटिंग के लिए सबसे पसंदीदा जगह कौन सी है तो हो सकता है इसका उत्तर उदयपुर ही हो। कई दशकों से उदयपुर और इसके आसपास के इलाके फिल्मकारों ...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
दाना-पानी
0

जगदीश मंदिर – भगवान विष्णु का जागृत मंदिर

जगदीश मंदिर पुराने उदयपुर शहर के मध्य में स्थित एक विशाल मंदिर है। जगदीश मंदिर को मूलत जगन्नाथराय का मंदिर भी कहते है। इसका निर्माण 1652 में पूरा हुआ था। उदयपुर के महाराणा जगत सिंह प्रथम ने इस ...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
दाना-पानी
0

हेरिटेज हवेली में तीन दिन और लेक पिछोला का नजारा

हमारा आटोरिक्शा पुराने उदयपुर की सड़कों पर धीरे धीरे आगे बढ़ रहा है। इन्हें सड़क न कहकर गलियां कहें तो अच्छा होगा। जगदीश मंदिर के आगे रास्ता और संकरा हो गया है। हम पुराने उदयपुर में लेक पिछ...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
दाना-पानी
0

दिल्ली से झीलों के शहर उदयपुर की ओर

इस बार दसहरे की छुट्टियों में हमने सैर की छोटी योजना बनायी। पूरे परिवार के साथ। दिल्ली से उदयपुर, माउंट आबू और जोधपुर होते हुए दिल्ली वापसी। राजस्थान का यही शहर है उदयपुर जहां हमारा जाना अभी त...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
दाना-पानी
0

कोटला का किला – क्या यहां जिन्न रहते हैं...

कोटला जो कभी दिल्ली का पांचवां शहर था...दिल्ली के आईटीओ के पास स्थित है कोटला का किला। आईटीओ से दिल्ली गेट की ओर जाते हुए दाहिनी तरफ अंदर जाकर आप किले के प्रवेश द्वार पर पहुंच सकते हैं। यह किला भ...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
दाना-पानी
0

बहादुरी की सैकड़ो दास्तां सुनाता- दिल्ली का वायुसेना संग्रहालय

दिल्ली के एयरपोर्ट के पास स्थित वायुसेना का संग्रहालय। भारतीय वायु सेना की बहादुरी की कई कही और अनकही कहानियां सुनाता है। एक दिन समय निकालिए कुछ घंटे और जानिए समझिए हमारी वायुसेना की ताकत को...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
दाना-पानी
0

न्यू महाराष्ट्र सदन में सुबह का नास्ता- बडा पाव और मिसल पाव

हल्की बारिश में भिंगते हुए सुबह सुबह हमलोग दिल्ली के कस्तूरबा गांधी मार्ग स्थित न्यू महाराष्ट्र सदन में पहुंच गए हैं। लोदी गार्डन की सैर के बाद हमारी योजना यहां ब्रेकफास्ट करने की है।कस्तू...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
दाना-पानी
0

गढ़ी हरसुरू से गुरग्राम वापसी और रेवाड़ी स्वीट्स की मिठास

गढ़ी हरसुरू अभी गुरुग्राम नगर निगम का हिस्सा नहीं बना है। पर रेलवे स्टेशन के आसपास काफी बिहार-यूपी बंगाल के लोगों ने प्लाट खरीदकर घर बना लिया है। आवासीय कालोनियां आबाद हो रही हैं। प्रदूषण मु...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
दाना-पानी
0

रेवाड़ी रेलवे स्टेशन- रात है या बारात फूलों की...

अलवर से रेवाड़ी के लिए लौट रहा हूं। मुझे अलवर जंक्शन से ट्रेन मिली है पोरबंदर मोतिहारी एक्सप्रेस। इसके इंजन की तरफ से लगने वाली जनरल बोगी में मैं सवार हो गया हूं। ट्रेन में जगह मुश्किल से मिली...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
दाना-पानी
0

अलवर में मोती डूंगरी, रेलवे स्टेशन और फतेह गुंबज

कंपनी बाग से निकल कर मैं पैदल चलता हुआ मोती डूंगरी की तरफ बढ़ रहा हूं। कंपनी बाग के एक कोने में अमर जवानों की समाधि दिखाई देती है। यह सेना के विभिन्न ऑपरेशन में शहीद होने वाले अलवर के फौजियों की...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
दाना-पानी
0

अलवर का होप सर्कस- लेडी होप के सम्मान में मिला नाम

होप सर्कस। यूं कहें तो अलवर शहर का दिल। चौराहे के बीचों बीच विशाल और सुंदर मंदिर। है हिंदू मंदिर पर नाम है होप सर्कस। भला कैसे पड़ा होगा इसका नाम होप सर्कस। दोपहर की धूप में होप सर्कस ऊपरी मंजि...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
दाना-पानी
0

अलवरी मावा मतलब कलाकंद - इसका जवाब नहीं

राजस्थान का अलवर शहर प्रसिद्ध है अपने कलाकंद या मिल्क केक के लिए। मिल्क केक को यहां अलवरी मावा कहा जाता है। पर आखिर यहां मिल्क केक ही क्यों बनता है। दरअसल राजस्थान का अलवर जिला दूध का बड़ा उत्...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
दाना-पानी
0

अलवर शहर का कंपनी गार्डन और स्वामी विवेकानंद

पैदल पैदल अलवर शहर का मुआयना करते हुए  मैं पुरजन विहार पहुंच गया हूं। इसे यहां के लोग कंपनी गार्डन भी कहते हैं। इसका एक और नाम है शिमला। अलवर शहर के बीचों बीच विशाल हरा भरा उद्यान है। पर इस उद्...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
दाना-पानी
0

मूसी महारानी की छतरी - पिता की याद में बेटे ने बनवाई

अलवर सिटी पैलेस के बगल में स्थित है मूसी महारानी की छतरी। वैसे तो राजस्थान में घूमते हुए आपको जगह जगह छतरियां देखने को मिलती हैं।पर अलवर की मूसी महारानी की छतरी का सौंदर्य कुछ अलग है।इस दो मंज...  और पढ़ें
3 माह पूर्व
दाना-पानी
0

अलवर सिटी पैलेस – कभी राजा का किला था अब कोर्ट-कचहरी

अलवर में बस स्टैंड से निकलने पर ये सोच रहा हूं कि सबसे पहले कहां जाना चाहिए। मेरे पास प्रमुख आकर्षण की सूची है। उसमें पहला नाम सिटी पैलेस का है। बस स्टैंड के बाहर बैटरी रिक्शा वालों से सिटी पैल...  और पढ़ें
3 माह पूर्व
दाना-पानी
0

दिल्ली से अलवर वाया भिवाडी- तिजारा

दिल्ली से राजस्थान का शहर अलवर ज्यादा दूर नहीं है। ट्रेन या बस से 3 से 5 घंटे में पहुंचा जा सकता है। कई बार अलवर से होकर रेल से गुजरा पर अलवर शहर को करीब से देखने की इच्छा अब जाकर पूरी हो रही है। दि...  और पढ़ें
3 माह पूर्व
दाना-पानी
0

कभी दिल्ली और आगरा से मुकाबला करता था डीग

डीग राजस्थान प्रांत के भरतपुर जिले में भरतपुर शहर से 32 किलोमीटर दूर एक प्राचीन ऐतिहासिक शहर है। इसका प्राचीन नाम दीर्घापुर था। स्कंद पुराण में दीर्घ या दीर्घापुर के रूप में इसका उल्लेख आता ह...  और पढ़ें
3 माह पूर्व
दाना-पानी
0

डीग का जल महल पैलेस - ताजमहल से कुछ कम नहीं...

राजस्थान के भरतपुर जिले का शहर डीग। डीग में बना जल महल पैलेस। ये किला सौंदर्य में ताजमहल से कुछ कम नहीं है। पर यहां सैलानियों की नजर कम पड़ी है।यह भरतपुर के जाट राजाओं का समर पैलेस हुआ करता था। ...  और पढ़ें
3 माह पूर्व
दाना-पानी
0

मुंबई मे विक्टोरियन युग की इमारत - टाउन हॉल

मुंबई कई बार जाना हुआ है। एक बार सीएसटी स्टेशन के आसपास के क्षेत्र में टहलते हुए एक भव्य इमारत पर नजर पड़ी। मुंबई का टाउन हॉल। सन 1833 में बना टाउन हॉल मुंबई की ऐतिहासिक और आइकोनिक इमारतों में शुम...  और पढ़ें
3 माह पूर्व
दाना-पानी
0

हर पल रुमानी है कुर्ग का मौसम

कुर्ग कर्नाटक का स्वर्ग है। केरल से भौगोलिक तौर पर लगे होने के कारण सालों भर यहां मौसम रूमानी रहता है। मैं खुद से पूछ रहा हूं कि मैंने यहां आने में इतनी देर क्यों कर दी। मडिकेरी शहर समुद्र तल से...  और पढ़ें
4 माह पूर्व
दाना-पानी
0

मैसूर से सुहाने देस कुर्ग की ओर

मैसूर के होटल से चेकआउट करके बस स्टैंड में आ चुका हूं। जून के महीने में भी यहां हल्की सी ठंड है, इसलिए एक कप चाय पी है। सुबह 7.50 बजे मडिकेरी जाने वाली बस में बैठ गया हूं। बस स्टैंड में बस तो खाली ह...  और पढ़ें
4 माह पूर्व
दाना-पानी
0

यहां बनती है मतदान के दौरान उंगली पर लगने वाली स्याही

जब चुनाव के दौरान वोट डालने जाते हैं तो आपकी उंगलियों पर स्याही लगा दी जाती है। ये स्याही आम स्याही से अलग होती है। यानी अमिट होती है। कई बार साफ करते करते महीनों बाद ही इस स्याही का दाग जाता है...  और पढ़ें
4 माह पूर्व
दाना-पानी
0

मैसूर में साइकिल किराये पर लेकर फर्राटा भरें

मैसूर में साइकिल की सवारी – पैडल विद प्राइड मैसूर देश के उन चुनिंदा शहरों में है जहां किराये पर साइकिल दिए जाने की मुहिम सफलतापूर्वक चल रही है। पूरे मैसूर शहर में साइकिल किराये पर देने के लिए ...  और पढ़ें
4 माह पूर्व
दाना-पानी
0

मैसूर के पार्क में कन्नड़ अभिनेता राजकुमार

मैसूर पैलेस से निकल कर मैं पास के पार्क में प्रवेश कर गया हूं। हरे भरे सुंदर पार्क में सुबह सुबह टहलने वाले पहुंचे हैं। यहां ओपन जिम भी बना है। पार्क में हरे भरे पड़े आबोहवा को मस्त बना रहे हैं।...  और पढ़ें
4 माह पूर्व
दाना-पानी
0
Postcard
फेसबुक द्वारा लॉगिन  
हो सकता है इनको आप जानते हो!  
Gurdev Singh
Gurdev Singh
Patiala. PUNJAB,India
MUKESH
MUKESH
kolkata,India
Sharda Arora
Sharda Arora
Nainital,India
adipex side effects
adipex side effects
hdAEKWNTAWNLxgk,
Jesus
Jesus
New York,Bolivia
क़मर वहीद नक़वी
क़मर वहीद नक़वी
ग्रेटर नोएडा,India