डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
शरारती बचपन की पोस्ट्स

आंकड़ो के खेल में भारत 6ठवें अमीर देशो में

आंकड़ो के खेल में भारत 6ठवें अमीर देशो में दिनाक 21 मई 2018 के समाचार पत्रों में अफ्रोशिया बैंक की ताजा रिपोर्ट प्रकाशित हुई है | इस रिपोर्ट में भारत का विश्व का 6 ठवां अमीर देश बताया गया है | इस रिपोर...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
शरारती बचपन
1

वो अपने चेहरे में सौ आफ़ताब रखते हैं ------- हसरत जयपुरी

वो अपने चेहरे में सौ आफ़ताब रखते हैंइसीलिये तो वो रुख़ पे नक़ाब रखते हैं ------------- हसरत जयपुरीआज है उनका पूण्य तिथिसलाम प्यार को , चाहत को , मेहरबानी को , सलाम जुल्फ को खुशबु की कामरानी को सलामसलाम ग...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
शरारती बचपन
0

ऐतिहासिक त्रासदी भारतीय शिक्षा व्यवस्था की

शिक्षक दिवस ---ऐतिहासिक त्रासदी भारतीय शिक्षा व्यवस्था की भारतीय शिक्षा व्यवस्था की त्रासदी की चर्चा आमतौर पर ब्रिटिश इंडिया कम्पनी के शासन काल में लागू की गयी मैकाले की शिक्षा नीति के साथ क...  और पढ़ें
3 सप्ताह पूर्व
शरारती बचपन
3

बुनकरों का संग्राम ...............1777--------------- 1800

बुनकरों का संग्राम ...............1777--------------- 1800{ अंग्रेजो ने भारत के कपडे उद्योग को बर्बाद किया था }क्या आज के दौर में देशी व विदेशी कम्पनियों के लूट ने ठीक वही काम नही किया है ? क्या वर्तमान समय में ये कम्पनि...  और पढ़ें
3 सप्ताह पूर्व
शरारती बचपन
2

इंकलाबी आवाज: ---- दुष्यंत कुमार

इंकलाबी आवाज:दुष्यंत कुमार सैंकड़ों नारे न देखघर अँधेरा देख तू आकाश के तारे न देख दुष्यंत का नाम भी जब भी आता है , तो उसके नाम के साथ एक इंकलाबी आवाज नजर आती है दुष्यंत ने अपनी पूरी जिन्दगी समाज ...  और पढ़ें
4 सप्ताह पूर्व
शरारती बचपन
1

आम आदमी के लिए जी एस टी धोखा है ?

आम आदमी के लिए जी एस टी धोखा है ?30 जून 2018 को जी एस टी अर्थात वस्तु एवं सेवा कर को लागू हुए एक वर्ष का समय पूरा हो गया पहली जुलाई को जी एस टी की पहली वर्ष गाठं मनाई गयी | इस अवसर पर केंद्र सरकार एवं जी एस...  और पढ़ें
4 सप्ताह पूर्व
शरारती बचपन
2

किसानो के लिए आंतक का पर्याय बने छुट्टा पशु

किसानो के लिए आंतक का पर्याय बने छुट्टा पशु --------------------------------------------------------------कृषि क्षेत्र सदियों से प्राकृतिक आपदा का शिकार बनता रहा है | कभी सुखा कभी अति वृष्टि कभी ओला व तूफानी हवाओं के साथ बाढ़ की त्रा...  और पढ़ें
1 माह पूर्व
शरारती बचपन
2

कृषि भूमि का बढ़ता विखंडन

कृषि भूमि का बढ़ता विखंडन भूमिहीन या लगभग भूमिहीन खेतिहर मजदूरो दस्तकारो अत्यंत छोटे जोतो से लेकर एक हेक्टेयर से कम जोतो के सीमान्त किसानो तथा एक से दो हेक्टेयर भूमि की जोत वाले छोटे किसानो म...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
शरारती बचपन
3

जब दर्द नही था सीने में तब ख़ाक मजा था जीने में -------

जब दर्द नही था सीने में तब ख़ाक मजा था जीने में -----------इन गीतों को सुर देने वाले किशोर दा का -------- ============== आज है जन्म दिन ===================सपनो के शहर ,हम बनायेगे घर पल भर में ये बनाके गिरा .............चल सपनो के शहर में तुझ...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
शरारती बचपन
3

हरि ॐ --- मन तरपत हरि दर्शन को आज , मोरे तुम बिन बिग्रे सब काज -- शकील बदायूनी

आज है उनका जन्म दिन हरि ॐ --- मन तरपत हरि दर्शन को आज , मोरे तुम बिन बिग्रे सब काज -- शकील बदायूनी जीवन के दर्शन को अपने कागज के कैनवास पर लिपिबद्द करने वाले मशहूर शायर और गीतकार शकील बदायूनी का अपनी...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
शरारती बचपन
2

ब्राह्मण -- भाग - पाँच

ब्राह्मण -- भाग - पाँचननदों के बाद पिछले शुद्र ( नव ) ननदों के साथ मैंने राजनीति में साझा किया और सारे क्षत्रिय राजाओं का उच्छेद कर डाला | परन्तु मेरा यह सौभाग्य बहुत दिनों न चल सका | शुद्र के भावी उ...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
शरारती बचपन
2

अतीत के झरोखे से आजमगढ़ -

अतीत के झरोखे से आजमगढ़ -चकलेदारो का शासन - विकास का नया दौरमुगलकाल के गिरते हुए राज्य में चकलेदारी की नई प्रथा शुरू हुई जो पहले से प्रचलित कृषि कार्य में ''कूत'''अधिया 'प्रथा पर आधारित थी | कूत में ...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
शरारती बचपन
4

दानबहादुर सिंह 'सूँड़ फैजाबादी''''आज जन्मदिन है उनका ''

दानबहादुर सिंह 'सूँड़ फैजाबादी''''आज जन्मदिन है उनका ''हरे - हरे नोटों में लगता प्यारा पेड़ खजूर का |बनिया तो बदनाम बेचारा किसे नही दरकार है ||हास्य का नाम लेते ही मेरे सामने प्रख्यात संचालक सूँड़ फैज...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
शरारती बचपन
3

चालीस साल लम्बी दर्द की कविता खत्म ----------गुलजार

आज मीना जी का जन्म दिन है ------------------चालीस साल लम्बी दर्द की कविता खत्म ----------गुलजारमीना जी ने अपनी डायरी गुलजार को सौपी | गुलजार ने उनकी मृत्यु पर कहा था की चालीस साल लम्बी दर्द की कविता खत्म हुई |गुल...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
शरारती बचपन
2

ब्राह्मण - भाग - चार 31-7-18

ब्राह्मण - भाग - चार मैंने भी इसके विरुद्ध अपनी आवाज उठायी | 'धिग्बल क्षत्रियबल ब्रम्हतेजोबल बलम 'का सबल नाद किया | यजमान को निरस्त करने का सब प्रकार से प्रण किया परीक्षित ने मेरे गले में मरा नाग ...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
शरारती बचपन
3

ब्राह्मण भाग - तीन 30-718

ब्राह्मण भाग - तीन मैंने अधिकतर उन दासो को अपने घरो में रखा , जो अपनी सभ्यता में पुरोहित रह चुके थे | उनमे झाड - फूंक की बड़ी मान्यता और प्रभुता थी | मैंने उनसे मन्त्र पूछ लिए | फिर मैंने उनका समुचित प...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
शरारती बचपन
4

ब्राह्मण -- भाग -- दो 27-7-18

ब्राह्मण ---- भाग -- दो मैं तब गायक था | अपने जाने हुए आर्ष रहस्य का मैं गानपूर्वक विस्तार करता था | पार्थिव शक्तियों को मैं देवत्व प्रदान करना मुर्खता समझता था | मेरे हितैषी देव सोम , अग्नि और पृथ्व...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
शरारती बचपन
2

ब्राह्मण 26-7-18

ब्राह्मण आज जो मुझे गाँवों में दिन - हीन अवस्था में देखता है , उसे गुमान भी नही हो सकता कि सदियों की कुछ में मैंने साम्राज्यों का संचालन किया है और अविरल जनसंख्या मेरे संकेतो पर नाचती रही है | ना ,...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
शरारती बचपन
2

देश का किसान है बेहाल --- 14-7-18

किसानो के सब्सिडी की असलियत कृषि सब्सिडी अर्थात खाद , बीज , सिंचाई आदि पर दी जाने वाली सरकारी सहयाता को कृषि व किसानो को दी जाने वाली बड़ी सहायता के रूप में प्रचारित किया जाता है | रासायनिक खादों ...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
शरारती बचपन
2

किसान आन्दोलन व किसान सगठन की ऐतिहासिक - दशा - दिशा 14-7 -18

किसान आन्दोलन व किसान सगठन की ऐतिहासिक - दशा - दिशा किसान आन्दोलन की शुरुआत ब्रिटिश गुलामी के समय से हुई थी | वह आन्दोलन बदलते रूप एवं चारित्रिक विशेषताओं के साथ 1947 - 50 के बाद भी चलता रहा | बीते सम...  और पढ़ें
2 माह पूर्व
शरारती बचपन
2

अतीत के झरोखो में - आजमगढ़ 19-6-18

अतीत के झरोखो में - आजमगढ़ - vol -1कल बड़े भाई साहब के घाट कार्यक्रम के अवसर पर गौरीशंकर घाट जाना हुआ , वो घाट मेरे लिए स्मृतियों का पन्ना है , वहाँ पर पीपल की छाँव के नीचे बैठकर पंडित जी द्वारा वैदिक कार...  और पढ़ें
3 माह पूर्व
शरारती बचपन
8

अपना शहर मगरुवा 18-6-18

अपना शहर मगरुवाका हो बच्चा ( अध्यक्ष जी ) पोकनी भैइस के जनतादल ( महिला ) केजिलाअध्यक्ष बना देहला !लखनऊ प्रवास से कल लौटा आज सोचा कि जरा टहल आते है अपनी मोपेड उठाकर कालीनगंज के रास्ते बढ़ रहा था अचा...  और पढ़ें
3 माह पूर्व
शरारती बचपन
11

काशी के हेमन्त दा - जन्मदिन पर 17-6-18

काशी के हेमन्त दा - जन्मदिन पर''कही दीप जले कही दिल - जरा देख ले आकर परवाने ,ऋतूराज हेमन्त भारतीय नये वर्ष की शुरुआत हेमन्त अपने आप में निराला - मनमोहक - अल्हड खुशनुमा अन्दाज- प्रकृति का अदभुत सौन्...  और पढ़ें
3 माह पूर्व
शरारती बचपन
8

गरीबो से दूर होती चिकित्सा सेवा --- 10-6-18

दवा कम्पनियों पर सरकार का कोई नियंत्रण नही डाक्टर जेनरिक दवाइया नही लिखते - कम्पनियों को फायदा पहुचाने के चक्कर में --आने वाले समय में आम आदमी चिकित्सा सेवा से वंचित होता जाएगा 6 अप्रैल के हिंद...  और पढ़ें
4 माह पूर्व
शरारती बचपन
10

गरीब मेधावी छात्रो को उच्च शिक्षा से वंचित करने की साजिश --- 2-6-18

गरीब मेधावी छात्रो को उच्च शिक्षा से वंचित करने की साजिश केंद्र सरकार के मानव ससाधन विकास मंत्रालय द्वारा मार्च 2018 में उच्च शिक्षा के 62 संस्थानों को स्वायत्त यानी अपने आप में अधिकार सम्पन्न ...  और पढ़ें
4 माह पूर्व
शरारती बचपन
7

ओ जानेवाले हो सके तो लौट के आना , ये घाट तू ये बाट कहीं भूल न जाना -- 2-6-18

पुण्यतिथि है राजकपूर कीओ जानेवाले हो सके तो लौट के आना , ये घाट तू ये बाट कहीं भूल न जानाप्रकृति के सौन्दर्य बोध के साथ ही साथ उसके इन्द्रधनुषी रंगों की छटाओ को उसकेकायनात के साथ ही उसके भिन्न - ...  और पढ़ें
4 माह पूर्व
शरारती बचपन
8

पंक्षी बनू उडती फिरू मस्त गगन आज नया राग हूँ दुनिया के चमन में 1-6-18

जन्म दिन पर विशेष नरगिसविद्रोही नारी स्वर -प्यार की अभिव्यक्तिपंक्षी बनू उडती फिरू मस्त गगन आज नया राग हूँ दुनिया के चमन मेंकजरारी आँखों में सम्पूर्ण भाव अभिव्यक्ति के साथ मोहक अंदाज में अप...  और पढ़ें
4 माह पूर्व
शरारती बचपन
10

बड़ा षड्यंत्र कारपोरेट घरानों का 29-5-18

नही लग पा रहा यौन हिंसा पर रोक --देश के विभिन्न क्षेत्रो में यौन हिंसा की वीभत्स लज्जाजनक एवं डरावनी घटनाए पिछले कई सालो से घटती रही हैं | इन घटनाओं की संख्या और उनकी जघन्यता साल दर साल बढ़ रही है | ...  और पढ़ें
4 माह पूर्व
शरारती बचपन
8

''हँसने की चाह ने मुझको इतना रुलाया है '' -मन्ना डे 1-5-18

''हँसने की चाह ने मुझको इतना रुलाया है '' -मन्ना डे 'जिन्दगी कैसी है पहेली , कभी तो हंसाये कभी ये रुलाये 'कभी देखो मन नही चाहे पीछे -- पीछे सपनों के भागे एक दिन सपनो का राही चला जाए सपनों के आगे कहा जीव...  और पढ़ें
5 माह पूर्व
शरारती बचपन
9

दैनिक जागरण जो कर रहा है, वो प्रो-रेपिस्ट पत्रकारिता है --- सुशील मानव

दैनिक जागरण जो कर रहा है, वो प्रो-रेपिस्ट पत्रकारिता हैजम्मू के कठुआ रसाना में आठ वर्षीय बकरवाल समुदाय की बच्ची से हुए गैंगरेप को लेकर जिस तरह की असंवेदनशील झूठी और शर्मनाक रिपोर्टिंग हिंदी ...  और पढ़ें
5 माह पूर्व
शरारती बचपन
13
Postcard
फेसबुक द्वारा लॉगिन  
हो सकता है इनको आप जानते हो!  
Sabiha Khan
Sabiha Khan
Pune,India
Rainbow News Blog
Rainbow News Blog
MAATRI BHOOMI......MY VILLAGE,India
jafar
jafar
haldwani,India
buy ativan online
buy ativan online
TbIPhBNqOmaQ,
gaurav kashyap
gaurav kashyap
panjwara,India
Kshitij Ranjan
Kshitij Ranjan
Patna,India