अपना ब्लॉग जोड़ें

अपने ब्लॉग को  जोड़ने के लिये नीचे दिए हुए टेक्स्ट बॉक्स में अपने ब्लॉग का पता भरें!
आप नए उपयोगकर्ता हैं?
अब सदस्य बनें
सदस्य बनें
क्या आप नया ब्लॉग बनाना चाहते हैं?
नवीनतम सदस्य

नई हलचल

Hindi poetry and thoughts

Apni anubhutiyon ko abhivyakti Dena chahati hun...  और पढ़ें
2 मिनट पूर्व
Abhilasha Chauhan
0

असल्फा :चल रंग दे

दो दिनों तक कभी तेज, कभी छिटपुट बारिश के बाद आज मौसम कुछ साफ़ है, आज सुबह धूप खिली थी. खिड़की के बाहर देखती हूँ, दूर तक जहाँ तक नजर जा सके. घाटकोपर पहाड़ी की ढलान दिखती है, और दीखते हैं उसी ढला...  और पढ़ें
45 मिनट पूर्व
Chetna Vardhan
bas do minute
1

अध्ययन

      सातवें महीने के पहले दिन, 444 ईसा पूर्व, जब सूर्योदय हुआ, तब एज्रा ने मूसा द्वारा परमेश्वर से प्राप्त हुई व्यवस्था की पुस्तक को, जो आज हमारे पास परमेश्वर के वचन बाइबल की पहली पाँच पुस्...  और पढ़ें
1 घंटे पूर्व
Roz Ki Roti
रोज़ की रोटी - Daily Bread
1

*🌕🌙**चांद भी क्या खूब है,**न सर पर घूंघट है,**न चेहरे पे बुरका,**कभी करवाचौथ का हो गया,**तो कभी ईद का,**तो कभी ग्रहण का**अगर**ज़मीन पर होता तो**टूटकर विवादों मे होता,**अदालत की सुनवाइयों में होता,**अखबार की सु...  और पढ़ें
2 घंटे पूर्व
Upendra Gughane
hindisahityamanjari
0

अस्तित्व का संकट आने पर दुश्मन से दुश्मन को भी गले मिलते इसी राजनीति में देखा है

हरेश कुमारकिसी ने भी सोचा नहीं होगा कि स्टेट गेस्ट हाउस कांड की घटना के बाद भी बहुजन समाज पार्टी और समाजवादी पार्टी के नेता एक मंच पर फिर से वापसी करेंगे,लेकिन जब अस्तित्व पर बन आई तो दोनों साथ ...  और पढ़ें
2 घंटे पूर्व
Haresh
Information2media
1

अनुच्छेद 35ए के कारण जम्मू-कश्मीर में देश के अन्य भागों के लोग जमीन नहीं खरीद सकते

अनुच्छेद 35ए को तत्काल प्रभाव से खत्म कर देना चाहिए। इसके रहते देश के अन्य भागों के लोग जम्मू-कश्मीर में जमीन नहीं ले सकते। आतंकवादियों और उनके समर्थकों को इस एक अनुच्छेद से मदद मिलती रही है। ज...  और पढ़ें
6 घंटे पूर्व
Haresh
Information2media
2

प्यार मोहब्बत बदल गया

जाने कब कैसे बदलेअपने, रिश्तेदारों मेंप्यार मोहब्बत बदल गयादेखो कैसे व्यवहारों मेंछोटी छोटी बातों परजिनसे कल तक लडते थेमार पीट झगडे करके भीसंग घूमते खाते खेलते थेजीवन चक्र कुछ यूं घूमाहम आ...  और पढ़ें
6 घंटे पूर्व
aprna tripathi
palash "पलाश"
0

दोहे"रावण की ससुराल"जोधपुर (राजस्थान) राधा तिवारी "राधेगोपाल"

 रावण की ससुरालजोधपुर (राजस्थान)चलो चले हम घूमने ,अपने राजस्थान ।जहाँ महल राजाओं के, कितने आलीशान ।।नगर जोधपुर में विकट ,बाग सजा मंडोर। रावण की ससुराल भी, करती भाव विभोर ।।पूजित होते हैं यह...  और पढ़ें
8 घंटे पूर्व
राधे गोपाल
राधे का संसार
2

यहाँ सब के सर पे सलीब है

अपेक्षाओं का अतिरिक्‍त दबाव हम सहन करने में नाकाम हो रहे हैं, यह बात किसी आम आदमी  की हो तो समझ में भी आती है मगर जब दूसरों के लिए माइलस्‍टोन बने अपने क्षेत्र के ''कामयाब  दिग्‍गज''नाकामी की इब...  और पढ़ें
10 घंटे पूर्व
Alaknanda singh
अब छोड़ो भी
3
4

स्वीकृति

बदन दर्द से तप रहा है और बुखार है कि उतरने का नाम नहीं ले रहा। उठने से मजबूर हूँ डॉक्टर क...  और पढ़ें
21 घंटे पूर्व
Abhilasha
@Abhi
2

सच्चाई से इनकार नहीं कर सकते, इतिहास को झुठलाने से सच्चाई बदल नहीं सकती

हरेश कुमार@Ikrar Husain जो गलत है वह गलत है। बाकी सच्चाई को सभी जानते हैं। सोशल मीडिया पर गलतबयानी करके या प्रोपेगैंडा करके ज्यादा समय तक कोई नहीं रह सकता। इसकी सफलता का यही मूलमंत्र है। इस्लाम के बार...  और पढ़ें
23 घंटे पूर्व
Haresh
Information2media
3

*पारीवारीक तनाव कीतना भी बढ जाय पर गोली मेडीकल स्टोर से ही ले*,*पिस्तूल  से नही!!*(दवा बाजार व्यापारी संघ)...  और पढ़ें
1 दिन पूर्व
Upendra Gughane
hindisahityamanjari
0

विजय

      प्रति वर्ष 18 जून के दिन वॉटरलू, जो अब बेलजियम में है, के महायुद्ध को स्मरण किया जाता है, क्योंकि इस दिन ड्यूक ऑफ वेलिंगटन के नेतृत्व में बहुराष्ट्रीय सेनाओं ने नेपोलियन की फ्रांसीस...  और पढ़ें
1 दिन पूर्व
Roz Ki Roti
रोज़ की रोटी - Daily Bread
1

दोहे "क्या होता है प्यार" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')

छिपा हुआ है प्यार में, जीवन का विज्ञान।प्यार और मनुहार से, गुरू बाँटता ज्ञान।।बन जाते हैं प्यार से, सारे बिगड़े काम।प्यार और अनुराग तो, होता ललित-ललाम।।दुनियाभर में प्यार की, बड़ी अनोखी रीत।...  और पढ़ें
1 दिन पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
2

दोहे "राधे का अरमान" (राधातिवारी "राधेगोपाल")

साड़ी सुन्दर दीजिए ,पत्नी को उपहार।बदले में उससे मिले, उनका प्यार अपार।।खीरे मूली आ गए, करने बहुत धमाल।सबजी में सबसे अधिक, बिकें टमाटर लाल।।माना आलू प्याज से,भरा हुआ बाजार।लेकिन कच्चे आम का, ख...  और पढ़ें
1 दिन पूर्व
राधे गोपाल
राधे का संसार
1

हरिद्वार में ट्रैफिक की समस्या पर केंद्र और राज्य सरकार को बहुत ही ज्यादा ध्यान देने की जरूरत है

हरेश कुमार17 -06-2018ग्राउंड िरपोर्टहरिद्वार बस स्टैंडहरिद्वार से दिल्ली के लिए बस सेवा बुरी तरह चरमराई है। हालात यहां तक हैं कि 10बजे से लोग परेशान हैं। घंटों देरी से बसें आ रही हैं और लोग हैं कि ...  और पढ़ें
1 दिन पूर्व
Haresh
Information2media
1

अपना शहर मगरुवा 18-6-18

अपना शहर मगरुवाका हो बच्चा ( अध्यक्ष जी ) पोकनी भैइस के जनतादल ( महिला ) केजिलाअध्यक्ष बना देहला !लखनऊ प्रवास से कल लौटा आज सोचा कि जरा टहल आते है अपनी मोपेड उठाकर कालीनगंज के रास्ते बढ़ रहा था अचा...  और पढ़ें
1 दिन पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
2

स्त्रियों की सबसे बड़ी समस्‍या

स्त्रियों की  सबसे  बड़ी  समस्‍याजब बहू  बनती  हैं  तब  सास  अच्‍छी नहीं  मिलती,जब सास  बनती हैं तब बहू अच्‍छी नहीं मिलती,जब देवरानी बनती हैं तब जेठानी अच्‍छी नहीं मिलती,और जब जे...  और पढ़ें
1 दिन पूर्व
GAJENDRA PRATAP SINGH
सरोकार की मीडिया
0

तक़दीर

अब इन स्याह रातों से मुँह मोड़ना कैसा ये तो तकदीर है मेरी जिंदगी की जो चलेगी उम्र भर यूं ही साथ मेरे कभी तड़पेगी कभी तरसेगी सुनहरी धूप की खातिरपर जानती हूँ मैं,  इन स्याह रातों का कोई सव...  और पढ़ें
2 दिन पूर्व
Saliha Mansoori
ख़ामोशी
1
3

मित्र मंडली -74

#corner-to-corner { height:100%; border:10px SOLID Green ; padding:20px ; background: #F8ECC2 ; मित्रों , "मित्र मंडली"का  चौहत्तर वाँ अंक का पोस्ट प्रस्तुत है।इस पोस्ट में मेरे ब्लॉग के फॉलोवर्स/अनुसरणकर्ताओं के हिंदी पोस्ट की लिंक के साथ उ...  और पढ़ें
2 दिन पूर्व
राकेश श्रीवास्तव
0

अब्बा, पिता

      पिताओं के दिवस को मनाने के उपलक्ष्य में दिए जाने वाले एक कार्ड पर कार्टून बना हुआ था – एक पिता अपने एक हाथ से अपने आगे घास काटने की मशीन को धक्का दे रहा था, तथा साथ ही दूसरे हाथ से अपने...  और पढ़ें
2 दिन पूर्व
Roz Ki Roti
रोज़ की रोटी - Daily Bread
2

VISHAL AGRAWAL - KHUSHBU AGRAWAL - वैश्य गौरव

sabhar: dainik bhaskar ...  और पढ़ें
2 दिन पूर्व
Praveen Gupta
हमारा वैश्य समाज - HAMARA VAISHYA SAMAJ
5

*जो मांगू वो दे दिया कर ए जिंदगी...!!**तू कभी तो मेरे पापा जैसी बन.*...  और पढ़ें
2 दिन पूर्व
Upendra Gughane
hindisahityamanjari
0

‘उलूक’ तू दो हजार में उन्नीस जोड़ या इक्कीस घटा तेरी बकवास करने की आदत का सरकार पेटेंट कराने फिर भी नहीं जा रही है

झंडों को हो रही इधर की बैचेनी कुछ कुछ समझ में आ रही है शहर में आज एक नयी भीड़ एक नये रंग के एक नये झंडे के नीचे एक नया झंडा गीत गा रही है पुराने झंडों के आशीर्वादों से भर चुके झंडा बरदारों को नींद ...  और पढ़ें
2 दिन पूर्व
डा0 सुशील कुमार जोशी
उल्लूक टाईम्स
1

राहुल गांधी, नाम मे क्या रखा है ?

राहुल गांधी,नाम मे क्या रखा है ?शेक्सपीयरने कहा था "नाम मे क्या रखा है"मगर यहाँ तो नाम मे ही सबकुछ रखा है और नाम ही काफी है किसीके चहेरे पर मुस्कुराहट लाने के लिए , जी हाँ भारत मे एक नाम ऐसा है जिसक...  और पढ़ें
2 दिन पूर्व
Tulsibhai patel
2

ये खास बात है आपमें तो आप बन सकती हैं मिस इंडिया | Miss India beauty contest

फ्रेंड्स, मॉडलिंग की दुनिया में शिखर पर पहुँचने का स्ट्रगल करने वालों के लिए ब्यूटी पेजेंट्स जैसे मिस इंडिया, या मिस वर्ल्ड जैसे टाइटल जीतना एक सपने की तरह होता है। मॉडलिंग और ब्यूटी कांटेस्...  और पढ़ें
2 दिन पूर्व
shweta
offbeat news
1

Fathers Day पर पढ़िए अज्ञेय की कविता – चाय पीते हुए

कभी अज्ञेय ने कहा था- कि …चाय पीते हुएहर साल जून के तीसरे रविवार को पूरी दुनिया में फादर्स डे मनाया जाता है। इस साल यह दिन 17 जून को सेलिब्रेट किया जा रहा है। पिछले साल 18 जून को फादर्स डे के रूप में ...  और पढ़ें
2 दिन पूर्व
Alaknanda singh
अब छोड़ो भी
2

Hindishayariclub

पहली बारिश
पहली बारिश
2 दिन पूर्व
Hindishayariclub
0
पिछला123456789...24532454अगला


Postcard
फेसबुक द्वारा लॉगिन