अपना ब्लॉग जोड़ें

अपने ब्लॉग को  जोड़ने के लिये नीचे दिए हुए टेक्स्ट बॉक्स में अपने ब्लॉग का पता भरें!
आप नए उपयोगकर्ता हैं?
अब सदस्य बनें
सदस्य बनें
क्या आप नया ब्लॉग बनाना चाहते हैं?
नवीनतम सदस्य

नई हलचल

तुझको चलना होगा, तुझको चलना होगा...खुशदीप

दूध के कलेक्शन सेंटर में एक मोटा और एक छोटा चूहा धमा-चौकड़ी मचा रहे थे...इसी उछल-कूद के दौरान दोनों ताजा दूध के एक टब में जा गिरे...दोनों बाहर निकलने की कोशिश में घंटो तैरते रहे...लेकिन टब की सीधी और ...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
ATUL WAGHMARE
0

शासन

इच्‍छा पर विचार का शासन रहना चाहिए। --- महार्षि वाल्‍मीकि...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
रौशन जसवाल विक्षिप्‍त
30

शासन

इच्‍छा पर विचार का शासन रहना चाहिए। --- महार्षि वाल्‍मीकि...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
रौशन जसवाल विक्षिप्‍त
32

आरकुटियन

कहानी:आरकुटियनअनवर सुहैल  साहनी साहब ने आरकुट लागिन किया। जूसीपुस्सी69 आन-लाईन मिली।साहनी साहब ने चैटिंग पैड पर टाईप किया-‘‘हैलो बेब’’तत्काल जवाब मिला-‘‘हाय सैक्सी’’‘‘आज क्या पहन रखा है?’...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
anwar suhail
गुमशुदा चेहरे / gumshuda-chehre
97

श्री राम ने क्यों लिया एक पत्नी व्रत ?-एक विवेचन

 श्री राम ने क्यों लिया एक पत्नी व्रत ?-एक विवेचन  मर्यादा पुरुषोतम  श्री राम का जीवन चरित युगों-युगों से सम्पूर्ण मानव-जाति  के लिए अनुकरणीय रहा है .श्री राम के चरित का हर पक्ष उज्ज्वल&n...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
SHIKHA KAUSHIK
(विचारों का चबूतरा )
58
हिन्दी पहेलियां - मेरी पहेलियां - Hindi Paheliyan - विवेक रस्तोगी
74

खांटी दीदी गिरी है, रहे मौन सरदार-

खांटी दीदीगिरी है,  रहे मौन सरदार |वाजिब हक़ की मांग भी, दे सरदार नकार |दे सरदार नकार, हुई वो आग-बबूली |गर बैठूं मैं मार, कहो गुंडा मामूली  |इसीलिए लो झेल, मरे माँ मानुष-माटी |रेल तेल का खेल, कहे दीद...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
रविकर
रविकर की कुण्डलियाँ
59

आसमां पर कोई सितारा है

आसमां पर कोई सितारा हैजो मेरा दूसरा किनारा हैएक खुद्दार आदमी के लिएमुझको मरना अभी गवारा हैमेरी माँ डर रही है राजा सेमुझसे शहजादा शर्त हारा हैदिल वो बच्चा है जिसके हाथो मेंएक फूटा हुआ गुब्बार...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
Devendra Gehlod
Jakhira, Shayari Collection | जखीरा, उर्दू शायरी संग्रह
90

शिंदे जी - क्या हिन्दुस्तान के सभी हिन्दू आतंकवादी हैं?

आदित्य चोपड़ालडख़ड़ाते लोकतांत्रिक और बिगड़ते राजनीतिक हालात के बीच देश में एक तो पहले ही नेतृत्व नाम की कोई चीज दिखाई नहीं देती और बची-खुची कसर हमारी लचर व भेदभावपूर्ण नीतियों ने पूरी कर दी...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
Praveen Gupta
हिन्दू - हिंदी - हिन्दुस्थान - HINDU-HINDI-HINDUSTHAN
102

सुख-दुःख

                                               जीवन मृत्यु तो एक परम सत्य,                             फिर क्यों मृत्यु से भय खाते हो।                  &...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
ATUL WAGHMARE
0

सुख-दुःख

                                               जीवन मृत्यु तो एक परम सत्य,                             फिर क्यों मृत्यु से भय खाते हो।                  &...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
Rajendra kumar
भूली-बिसरी यादें
154

SHRIMAN NARAYAN NARAYAN HARI HARI-INSTRUMENTAL

INSTRUMENTAL "SHIMAN NARAYAN NARAYAN HARI HARI DHUN." DEAR FRIENDS,I PLAYED ELE.HAWAIIAN GUITAR INSTRUMENTAL "SHIMAN NARAYAN NARAYAN HARI HARI DHUN." WITH HELP OF SONUUS G2M, ROLAND XP 30 AND MY ELE.GUITAR.DOWNLOAD FULL LENGTH-MP3 AUDIO. http://www.4shared.com/mp3/3PKxCToM/INSTRUMENTAL-SHIMAN_NARAYAN_NA.htmlDOWNLOAD RINGTONE-MP3 AUDIO. http://www.4shared.com/mp3/IEezseVt/RINGTOME-HARI_OHM_NAMO__2_.htmlhttp://www.4shared.com/mp3/USJBbSFp/RINGTONE-SHIMAN_NARAYAN_NARAYA.htmlENJO...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
Markand Dave
M.K.TVFilms - HINDI ARTICLES
188

...... दामिनी माध्यम है स्व का .... सैनिक अपने स्व की तलाश में खो रहे (6)

अध्याय दर अध्याय हम निभाएंगे अपना उत्तरदायित्व पुकारते रहेंगे देश के हर कोने से अपनी मिटटी को पहचानो अपना कर्त्तव्य निभाओ सम्मान करो अपने घर की बुनियाद का ...... हम तो रक्तदान करते ...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
Ravindra Prabhat
परिकल्पना
52

तो-बा-शिंदे बोल तू , तालिबान अफगान-

 तो-बा-शिंदे बोल तू , तालिबान अफगान ।काबुल में विस्फोट कर, डाला फिर व्यवधान ।डाला फिर व्यवधान, यही क्या यहाँ हो रहा ?होता भी है अगर, वजीरी व्यर्थ ढो  रहा ।फूट व्यर्थ बक्कार, इन्हें चुनवा दे ...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
रविकर
रविकर-पुंज
41
0
प्रगतिशील ब्लॉग लेखक संघ
67

राहुल भावुक मत होना !

 राहुल भावुक मत होना !रोक लो आंसू आँखों में ,  माँ से इतना कहना ,साथ तुम्हारे पूरा भारत , राहुल भावुक मत होना !दादी की नृशंस हत्या , प्रिय -पिता बलिदान ,सहे दर्द चुप रहकर तुमने हिम्मत -दामन थाम ,...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
SHIKHA KAUSHIK
(विचारों का चबूतरा )
64

पैसे कमाने का एक और आसन और स्मार्ट तरीका

दोस्तों मै अपनी पिछली  कई पोस्ट में पैसे कमाने के स्मार्ट तरीको के बारे में बता चुका हूँ। आज मै एक और पैसे कमाने का स्मार्ट तरीका लेकर आया हूँ। ये तरीका अब तक का सबसे अच्छा तरीका है। दोस्तों...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
Farruq
Hindi Internet Technology
494

रिश्ते ..

रिश्ते मिलते हों बेशक स्वत: ही पर रिश्ते बनते नहीं बनाने पड़ते हैं।करने पड़ते हैं खड़े मान और भरोसे का ईंट, गारा लगा करनिकाल कर स्वार्थ की कील और पोत कर प्रेम के रंग रिश्...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
Shikha varshney
स्पंदन SPANDAN
49

बोल अब तो-बा-शिंदे-रविकर

बाशिंदे अतिशय सरल, धरम-करम से काम  ।सरल हृदय अपना बना,  देखे उनमें राम । देखे उनमें राम, नम्रता नहीं दीनता ।दीन धर्म ईमान, किसी का नहीं छीनता ।पाले हिन्दुस्थान,  युगों से जीव-परिंदे ।...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
रविकर
रविकर की कुण्डलियाँ
40

No Title

मंगल पांडेयभाजपा के प्रदेश अध्यक्ष चुने गये  मंगल पांडेय 15 अप्रैल को  भाजपा की हुंकार रैली मोदी के बिहार आने पर भाजपा लेगा निर्णय  बिहार भाजपा के नवनिर्वाचित अध्यक्ष मंगल पांडेय ...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
shamshad Alam
.DESHI HUNGAMA NEWS
64

कुम्भ कैसे नहाऊँगी !!

कुम्भकैसेनहाओगे ??दुखती रगो  कोमानोछेड़दिया छलनीछलनी व्यथितहियको विषमय  तीरोंसेभेददिया मेरेलालकीगर्दनेलेगए परनहींमैंअश्रुबहाऊंगी भरोतालकातिलकेखूनसे उसीमेंकु...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
SHIKHA KAUSHIK
WORLD's WOMAN BLOGGERS ASSOCIATION
52

No Title

लालू निर्विरोध्  चुने गये राजद अघ्यक्षसात अप्रैल को परिवर्तन रैला      राजद के आठवीं बार राष्ट्रीय अध्यक्ष चुने गये लालू प्रसाद ने कहा कि नीतीश कुमार डरपोक मुख्यमंत्राी है, उन्हें जनता...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
shamshad Alam
.DESHI HUNGAMA NEWS
61

हाइकू

1पहले रेल, अब हुआ है तेल, यहीं है खेल, 2बढती महंगाई, रिश्वतखोरी और, भ्रष्टाचार , 3लूट खसोट,बलात्कार और, बढे हत्यारे ,4बढती गरीबी, परेशान है जिन्दगी, बेखबर सरकार, 5नफरत का बाजार,&nb...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
ATUL WAGHMARE
0

हाइकू

1पहले रेल, अब हुआ है तेल, यहीं है खेल, 2बढती महंगाई, रिश्वतखोरी और, भ्रष्टाचार , 3लूट खसोट,बलात्कार और, बढे हत्यारे ,4बढती गरीबी, परेशान है जिन्दगी, बेखबर सरकार, 5नफरत का बाजार,&nb...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
Rajendra kumar
भूली-बिसरी यादें
130

करें अभिनन्दन आगे बढ़कर जब वह समक्ष उपस्थित हो .

 भावनाएं वे क्या समझेंगे जिनकी आत्मा कलुषित हो ,अटकल-पच्चू  अनुमानों से मन जिनका प्रदूषित हो .सौंपा था ये देश स्वयं ही हमने हाथ फिरंगी के ,दिल पर रखकर हाथ कहो कुछ जब ये बात अनुचित हो .डाल गले म...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
SHALINI KAUSHIK
! कौशल !
44

शहनवाज-गडकरी, पार्टी यह आतंकी-

माधौ संघी करें ट्विट,  दिग्गी करें कमेन्ट ।साहब हाफिज सईद जी, ईष्ट सेंट-पर-सेंट । ईष्ट सेंट-पर-सेंट, हमारे स्वामी आका ।पार्टी लाइन यही, खींचते जाएँ खाका ।शहनवाज-गडकरी, पार्टी यह आतंकी ।प्याद...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
रविकर
रविकर-पुंज
49

गाँवों का खोखला उत्थान

विश्वपटल पर हमारे देश की पहचान एक कृषि प्रधान देश के रूप मे है. गाँवों को भारत के पैर कहा जाता है. हम गाँवों के बहुआयामी उत्थान के लिए अग्रसर भी हैं चाहे वह सड़कों, नहरों, शिक्षा, स्वास्थ्य कोई भी...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
बृजेश नीरज
56

सोये आतंकी पड़े, छाये भाजप संघ-

सोये आतंकी पड़े, छाये भाजप संघ |आरोपी तैयार है, आओ सीमा लंघ ||जैसे मन वैसे संहारो || पेट फटे नक्सल लटे, डटे बढे उन्माद  |गले कटे भारत बटे, लो आंसू पर दाद |खाली कुर्सी चलो पधारो ||बढती मँहगाई गई, गाई गई...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
रविकर
रविकर की कुण्डलियाँ
38

...... दामिनी माध्यम है स्व का .... सैनिक अपने स्व की तलाश में खो रहे (5)

शहादत कोई भाषा नहीं कि तेरे मेरे की बात होपर बात हो गई है  ....हादसे शमशान से हो गए हैं उधर से गुजरना ज़रूरी तो नहीं .... जब अपनी बारी होगी तो देखेंगे - क्यूँ ?रश्मि प्रभा ==================================================...  और पढ़ें
5 वर्ष पूर्व
Ravindra Prabhat
परिकल्पना
48


Postcard
फेसबुक द्वारा लॉगिन