अपना ब्लॉग जोड़ें

अपने ब्लॉग को  जोड़ने के लिये नीचे दिए हुए टेक्स्ट बॉक्स में अपने ब्लॉग का पता भरें!
आप नए उपयोगकर्ता हैं?
अब सदस्य बनें
सदस्य बनें
क्या आप नया ब्लॉग बनाना चाहते हैं?
नवीनतम सदस्य

नई हलचल

अनाम वेदनाओं के शिलालेख

भूख और बीमारी बलात्कार और हत्याएं घुमाते है वक्त का पहियाँ जो रक्त और मांस से बोझिल हो चला है ...इन सब से बेखबर दो वक्त डकारता कोई बदलता है चैनल पलटता है पन्ने करता है चुगल...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
तरुण
Tarun's Diary-"तरुण की डायरी से .कुछ पन्ने.."
15

ये मेरी किस्मत...

जिसे पाने की उम्मीद पे चला हूँ,वो मंजिल तो कभी दिखाई ही नहीं देती। के हर रहगुज़र बन के मेरा हमसफर,अक्सर मुझे यूं ही तन्हा छोड़ गया। पर फिर भी जाने किस उम्मीद में जी रहा हूँ,के कभी तो मंज़िल को...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
Mahesh Barmate
माही....
73

दुखियारा होने का दुख (व्यंग्य)

नेट में कल मैंने एक खबर पढ़ी कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की रिपोर्ट के अनुसार भारत में सबसे ज्यादा दुखी लोग है। यह खबर पढ़ते ही मैं अपना सिर पकड़कर बैठ गया। भारत और डिप्रेस्ड...????  सि...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
Sumit
30

कारगिल शहीद दिवस (26 जुलाई) के उपलक्ष्‍य में एल.ओ.सी. कारगिल फिल्‍म का गीत डाउनलोड करें ।

दस वर्ष से अधिक हो गये कारगिल के युद्ध की विजय के । कारगिल युद्ध विजय के उपलक्ष्‍य में भारतसरकार द्वारा घोषित किये गये विजय दिवस 26 जुलाई को भी अधिकतम लोग भुला चुके हैं । पर हम कैसे भूल जाएँ कि इन...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
SANSKRITJAGAT
महाकवि वचन-MAHAKAVI VACHAN
146

ॐ साईं नाथाय नमः

ॐ साईं नाथाय नमः श्री साईबाबा आप सभी को सुख समृद्धि दे,  यही प्रार्थना है .  विजय ...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
vijay kumar sappatti
शिर्डी के साईबाबा .......SHRI SAIBABA OF SHIRDI
93

Saibaba Temple - live darshan

7 वर्ष पूर्व
vijay kumar sappatti
शिर्डी के साईबाबा .......SHRI SAIBABA OF SHIRDI
134
योगेन्द्र पाल की सूचना प्रौद्योगिकी डायरी
144

بھوکوں کو روٹی دینے کی قواعد‎

فردوس خان ملک میں غذائی تحفظ (فوڈ سیکورٹی) بل کو منظوری ملنے سے فاقہ کشی کی وجہ سے ہونے والی اموات میں کچھ حد تک کمی آئے گی، ایسی امید کی جا سکتی ہے۔حال ہی میں یو پی اے کی صدر سونیا گاندھی کی صدارت والی قومی صلاح کار کمیٹی( این اے سی) نے قومی غذائی تحفظ بل 2011 کو منظوری دی ہے۔ اس ک...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
Firdaus Khan
جہاںنُما
87

हिंदी ब्लॉग्गिंग गाइड : मेरी नज़र से (भाग 4)

आह !कितना सुकून है जब,कोई काम आपके मन का होता है...लगता है जैसेकोई मनचाही कामना पूरी होने लगी हो...!आज कुछ ऐसे ही जज़्बात मेरे दिल से बयान हो रहे हैं,  आज बहुत दिनों बाद मैं फिर आपके समक्ष हिन्दी ब्...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
Mahesh Barmate
Kuchh Dil Se...
109

जब जागो तभी सवेरा है

                                                        जब जागो तभी सवेरा है                   &nb...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
राजीव कुमार झा
54

पूछो

क्या गुजरी हम पर बीते साल तो पूछोइतनी मुद्दत बाद मिले हो हाल तो पूछोदम टूटा दर्द भरी सिसकियाँ निकलींकितने खंजर हुए सीने के पार तो पूछोतेरी महफ़िल में आये तो दोस्तों के साथघर लौटे हम कितने सूने ...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
Shankar M
Thoughtscroll
74

तालाब का सरप्राईज (व्यंग्य)

हमारी रायपुर नगर निगम की संवेदनशीलता का मैं कायल हूं। जिस चीज के बारे में सोचता हूं उसे ये बना देती है। मेरी पुरानी रचना (मुहांसे वाली कैटरीना) में मैंने अपने शहर में नित नई बनती सड़कों के बारे ...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
Sumit
34
योगेन्द्र पाल की सूचना प्रौद्योगिकी डायरी
141

जिम कॉर्बेट की जयन्ती आज : बाघ संरक्षण दिवस के रूप में मनाने की उठने लगी मांग

आज हम सभी लोग जो की बाघों के संरक्षण मैं लगे हैं या फिर इनकी फिक्र करते हैं वो जिम कॉर्बेट के नाम से भी थोड़े बहुत परिचित हैं. भारत का पहला तथा विश्व प्रसिद्ध बाघ संरक्षण क्षेत्र  कॉर्बेट नेशन...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
ATUL WAGHMARE
0

जिम कॉर्बेट की जयन्ती आज : बाघ संरक्षण दिवस के रूप में मनाने की उठने लगी मांग

आज हम सभी लोग जो की बाघों के संरक्षण मैं लगे हैं या फिर इनकी फिक्र करते हैं वो जिम कॉर्बेट के नाम से भी थोड़े बहुत परिचित हैं. भारत का पहला तथा विश्व प्रसिद्ध बाघ संरक्षण क्षेत्र  कॉर्बेट नेशन...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
corbettnews
कॉर्बेट न्यूज़
135

वो मधुर बातें वो मधुर निंदिया

वो मधुर बातें वो मधुर निंदियानिंदियों में तुमसा वो मधुर सपनासपनो में अपना अपनों मे तुम साअब नहीं हैं....न मधुर रातें न मधुर निंदियान मधुर सपना न मधुर चैना...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
Manish Mishra
अक्षत-मन AKSHATMANN
54
योगेन्द्र पाल की सूचना प्रौद्योगिकी डायरी
112

किताब ‘51 जदीद साइंसी तहक़ीक़ात जो दरअस्ल इस्लाम की हैं’ का लोकार्पण

यूनिटी कालेज, हुसैनाबाद लखनऊ में 22 जुलाई 2011 को आयोजित एक समारोह में ज़ीशान हैदर ज़ैदी की किताब ‘51 जदीद साइंसी तहक़ीक़ात जो दरअस्ल इस्लाम की हैं’ का लोकार्पण हुआ। समारोह में अन्तर्राष्ट्रीय व...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
Dr. Zeashan Zaidi
Ya Husain Ya Shah-E-Karbala
99

वह तो झांसी वाली रानी थी...

टाइम मैगजीन ने भारतीय वीरांगना झांसी की रानी लक्ष्मीबाई को पति के बचाव में दीवार बनकर खड़ी होने वाली दुनिया की 10 जांबाज़  पत्नियों की फ़ेहरिस्त में शामिल किया है. लक्ष्मीबाई का जन्म 19 नवंबर, ...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
Firdaus Khan
मेरी डायरी
90

हिंदी ब्लॉगिंग की इज्जत करिए , क्योंकि आप हिंदी के ब्लॉगर हैं

जाने क्यों थोडे थोडे समय बाद इस तरह की बातें , देखने सुनने और पढने को मिल जाती हैं , जिसमें कोई हिंदी ब्लॉगर हिंदी ब्लॉगिंग का माखौल उडाता , या फ़िर उसका अपमान सा करता दिखता है । किसी को गुटबाजी द...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
अजय कुमार झा
कुछ भी...कभी भी..
63

मशहूर हस्तिया

इंदौर के कुछ प्रमुख हस्तियों की एक सूची प्रदान की जा रही है अगर आपको लगता है इसमें किसी को नहीं लिया गया है तो सूचित करे:शासक और अन्य मशहूर हस्तियादेवी अहिल्या बाई होलकर, आप को सबसे ज्यादा प्रस...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
Devendra Gehlod
My Indore City [ इंदौर शहर ]
106

“उन दोनों में कहाँ प्यार था....?”

समय परिवर्तनशील है पर यह अपने साथ सबको बदलता है. एकला नहीं चलता. आप चाहो ना चाहो उसकी इसे परवाह नहीं. मायने भी बदल देता है ये चीजों के और चीजें तो बदल देता ही है. इस परिवर्तन में प्रेम-प्यार-इश्क भ...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
SHREESH K. PATHAK
नवोत्पल
89
योगेन्द्र पाल की सूचना प्रौद्योगिकी डायरी
153

SHRI SAIBABA - RARE PHOTOGRAPH

OM SAI SHRI SAI , JAI JAI SAI ...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
vijay kumar sappatti
शिर्डी के साईबाबा .......SHRI SAIBABA OF SHIRDI
113

SEA ....!!!

7 वर्ष पूर्व
vijay kumar sappatti
MY PHOTOGRAPHIC ROMANCE
114

"खटीमा मॉर्निंग में साहित्यिक गोष्ठी की धूम!" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक")

खटीमा मॉर्निंग में साहित्यिक गोष्ठी की धूम!अब यह 1 मिनट का वीडिओ देखिए!साहित्य शारदा मंच खटीमा के बैनर तले एक कविगोष्ठी का आयोजन किया गया!साधना न्यूज चैनल द्वारा इसकी कवरेज दिखाई गयी!आयोजक-डॉ....  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
130

बुख़ार

आज मेरा मन थका- थका सा लाचार है शायद मुझे थोरा बुख़ार है दुसरे का बोझ उठाना तो दूर अपना कन्धा ही भार है  आंखे देखने को बार बार खोलता हूँ मैं पर ना जाने कैसी इसमें खुमार है  चाहता तो ...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
Kshitij Ranjan
क्षितिज
80

ME

7 वर्ष पूर्व
vijay kumar sappatti
MY PHOTOGRAPHIC ROMANCE
113

टुक टुक चलती ये जीवन गाड़ी

टुक टुक चलती ये जीवन गाड़ीऔर मैं इक काठ का घोड़ाना गाड़ीवान है ना कोई सवारीफ़िर भी सब कुछ लगता क्यों भारी भारी?...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
राजीव उपाध्याय
स्वयं शून्य
47

स्पोटेड डियर (चीतल)

कॉर्बेट पार्क अपनी जैव विविधता और अनूठे वन्यजीव संसार के लिए जाना जाता है, यहाँ पाए जाने वाले हिरनों की चार प्रजातियों में सबसे आकर्षक हिरन है स्पोटेड डियर (चीतल), जो सहज ही किसी को भी अपनी ओर आ...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
ATUL WAGHMARE
0


Postcard
फेसबुक द्वारा लॉगिन