अपना ब्लॉग जोड़ें

अपने ब्लॉग को  जोड़ने के लिये नीचे दिए हुए टेक्स्ट बॉक्स में अपने ब्लॉग का पता भरें!
आप नए उपयोगकर्ता हैं?
अब सदस्य बनें
सदस्य बनें
क्या आप नया ब्लॉग बनाना चाहते हैं?
नवीनतम सदस्य

नई हलचल

करवाचौथ पर...

...वोथेदोआजादपरिंदेजोअगरउड़तेरहते साथ साथदेतेएक दूसरेकेपरों कोताकततोशायद नाप देतेआसमानदेख लेतेदुनिया कोइस छोर सेउसछोर तकपरउन्होंनेबाँधाएक दूजे कोइकरिश्ते की डोर सेमिल बनायाखुद हीएक ...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
प्रवीण शाह
35

हिंदी भाषी राज्य और सहकारिता

देश में सहकारिता के कुछ जानकारों का मानना है कि स्वतंत्रता प्राप्ति के पहले से चल रहा सहकारिता आंदोलन बिखरने के कगार पर है। हालांकि यह आज विराट रूप धारण कर चुका है और एक अनुमान के अनुसार इस सम...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
Krishan Vrihaspati
Bhoomeet | Hindi Rural Magazine | Agriculture Magazine |Farmers Magazine|Indian Magazine
107

खलिहान

फिर कम आने लगे मज़दूर फिर रुकने लगा खदान का विकासफिर खिलखिलाने लगे खलिहानफिर वयस्त हुए किसान... ये फसल कटाई का उत्सव है दोस्तोंये सपने पूरे होने की अलामतें हैंये आशा और विश्वास वाले दिन हैंये ए...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
anwar suhail
अनवर सुहैल का रचना संसार
70

Destiny

Sow a thought, reap an act; Sow an act, reap a habit; Sow a habit, reap a character; Sow a character, reap a destiny. ~ Unknown...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
vijay kumar sappatti
HRUDAYAM :: ह्रदयम
58

सहजता और सरलता

प्रिय मित्रो , जीवन में सहजता और सरलता होनी चाहिए . हम अपने जीवन को जितना ज्यादा सरल और सहज बनायेंगे , जीवन उतना ही सुखमय होंगा .ये ही जीवन का मूल मन्त्र है . बस खुश रहिये , सहज रहिये . और जीवन के बह...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
vijay kumar sappatti
THE INNER JOURNEY ::: अंतर्यात्रा
93

The Owl....!

6 वर्ष पूर्व
vijay kumar sappatti
MY PHOTOGRAPHIC ROMANCE
77

साहित्य, हम और जावेद अख्तर...

फ़िरदौस ख़ानहमारी ज़िंदगी में किताबों की बहुत अहमियत है... हम तो किताबों के बिना ज़िंदगी का तसव्वुर तक नहीं कर सकते... उन्हें भी किताबें पढ़ने का इतना ही शौक़ है... सफ़र में जाते वक़्त सबसे पहले क...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
Firdaus Khan
Firdaus Diary
48

हुस्ना : पियूष मिश्रा ............!!!

.....कुछ नगमे ऐसे बन जाते है .. जो life time achievement होते है .. ये नगमा कुछ ऐसा ही है .....हितेश ने बहुत अच्छी compositions दी है , पियूष के शब्दों को .. पियूष के आवाज़ में छुपा हुआ दर्द सीधे दिल पर वार करता है और बंटवारे के दर...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
vijay kumar sappatti
THE MUSIC OF MY LIFE : मेरे जीवन का संगीत
105

शब्द से ख़ामोशी तक ...अनकहा 'मन' का -1

ख़ामोशी में बहुत कुछ है अब ...सुनने को ....वो भी जो तब नहीं सुन पाई थी .....जब शब्द बात करते थे ....अब चारों पहर बस ख़ामोशी ही गुनगुनाती है हमारे बीच ...और राह तकते शब्द थक कर सो जाते हैं गहरी नींद ......!!(शब्दों ...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
सु-मन (Suman Kapoor)
बावरा मन
50
चुटकुले और हंसगुल्ले (कुछ हल्के-फुल्के पल...)
538

पिया तोरा कैसा अभिमान ?

पिछले दिनों ट्रेन के सफ़र के दौरान इक सज्जन से बातचीत हो रही थी । उन्होंने बताया कि , वे उम्र का लंबा सफ़र अकेले ही काट रहे हैं । पेशे से वो लेखक थे तो बात निकल पड़ी । उनकी शिकायत थी , प्रेम सम्बन...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
mamta vyas
मनवा
81

जीवन का अस्तित्व-एक विचार

जीवन का अस्तित्व-एक विचार पानी की बूंद की उत्पत्ति का रहस्य भी अजीब है | मैंने बहुत  सोचा, परन्तु समझ न सका , कहाँ से आया और इसका क्या हश्र होगा? खैर ! बूंद, जिसकी शायद नियति ही थी उसकी  उत्पत...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
राकेश श्रीवास्तव
77

किसान और सांप (काव्य-कथा)

अपने बंज़र खेत देख कर एक किसान दुखी होता था.पूरी मेहनत करने पर भी, कुछ भी न पैदा होता था.अपने खेत में उस किसान ने एक दिन सांप की बांबी देखी.नागराज को यदि खुश कर दूं,शायद किस्मत जग जायेगी.एक ...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
Kailash Sharma
बच्चों का कोना
127

"लौ "

झंझाबात से  जिन हाथों ने "लौ " को घेरकर बुझने से बचाया था'लौ ' बुझाने का दोष लगाकर ,"लौ " ने ही हाथ को  जला दिया।हवा का हर झोंका आता है "लौ " को बुझाने के लिए , पर "लौ " की हिम्मत देखोवह  हिलता है ,ड...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
Kalipad
अनुभूति
109

Amazing photos

if (WIDGETBOX) WIDGETBOX.renderWidget('cbd9932a-3f2f-45ae-b704-72955f7719c9');Get the HTML Scrolling Text widget and many other great free widgets at Widgetbox! Not seeing a widget? (More info)...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
ATUL WAGHMARE
0

No Title

यादों की फाँस                         छीन ले गई              मन का सारा चैन              उसकी याद                ...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
Sarika Mukesh
अंतर्मन की लहरें Antarman Ki Lehren
59

सिंघा

6 वर्ष पूर्व
Imran Ansari
जज़्बात...दिल से दिल तक
48

“विविध-भारती”

      अगर आपके पास रेडियो नहीं है, तो मेरी सलाह है कि ले लीजिये; और अगर आपका रेडियो कहीं इधर-उधर पड़ा है, तो उसे झाड़-पोंछ कर ठीक करा लीजिये। इसके बाद शॉर्टवेव पर रेडियो की सूई को किसी तरह से “...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
जयदीप शेखर
कभी-कभार
136

अब ऐसे भ्रष्टाचार का क्या इलाज है?

इसके ऊपर तो भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम भी लागू नहीं हो सकता, न ही इसकी कहीं शिकायत हो सकती और अगर हो भी सकती होगी तो शायद ही कोई कार्रवाई सम्भव होगी.मामला यूँ है कि एक मशीन खराब हो गयी. मशीन वारन्...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
भारतीय नागरिक
भारतीय नागरिक-Indian Citizen
76

अविवाहित बेटी का भरण-पोषण अधिकार

अविवाहित बेटी का भरण-पोषण अधिकार दंड प्रक्रिया सहिंता १९७३ की धारा १२५ [१] के अनुसार ''यदि पर्याप्त साधनों वाला कोई व्यक्ति -...............................................................................................................................................[ग] -अपने धर...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
SHALINI KAUSHIK
कानूनी ज्ञान
62

नानी का गांव

   रांची से 55-60 km दूर एक छोटा सा गांव है जिसका नाम है- सुन्दारी.. ये मेरे नानी का गांव है.. अक्सर छुट्टीओं में मैं यहां पहुंच जाता हूं.. यहां का शांत व प्राकृतिक वातावरण मुझे बेहद पसंद आता है..   स...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
Prashant Suhano
SUHANO DRISHTI
102

सीते मुझे साकेत विस्मृत क्यों नहीं होता !

सीते मुझे साकेत विस्मृत क्यों नहीं होता !सीते मुझे साकेत विस्मृत क्यों नहीं होता !क्षण क्षण ह्रदय उसके लिए है क्यों मेरा रोता !बिन तात के अनाथ हो गया मेरा साकेत ,अब कौन सुख की नींद होगा...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
SHIKHA KAUSHIK
38

सहकारिता कल, आज और कल

कल्पना करें आज से पच्चीस हजार वर्ष पहले की, जब आदमी मुख्यतया शिकार पर ही जीवन यापन करता था जब जंगल में उससे कहीं अधिक सशक्त जानवरों का राज्य था, तब यह दुर्बल सा प्राणी बिना हथियारों के मात्र लाठ...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
Krishan Vrihaspati
Bhoomeet | Hindi Rural Magazine | Agriculture Magazine |Farmers Magazine|Indian Magazine
100

खून का रिश्ता (तीसरा अंतिम भाग)

''चलो, ये तो समझ लिया कि नन्द वंश तुम्हारे रूप में मौजूद है। लेकिन यह वंश पूरी दुनिया में फैल जायेगा यह कैसे संभव होगा?" राशि ने पूछा। ''इसकी शुरूआत हो चुकी है। और इस तरह का पहला नंद वंशज बना है तु...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
Dr. Zeashan Zaidi
Hindi Science Fiction हिंदी साइंस फिक्शन
75

सियासत की नीयत में खोट

वर्तमान में देश का जो भी राजनीतिक परिदृश्य दिख रहा है वो शायद भारतीय राजनीति में भ्रष्टाचार , भाई भतीजावाद , परिवारवाद , और नैतिकता के पत्तन का चरम है । इससे पहले बेशक कई बार इस तरह होता दिखा है ...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
अजय कुमार झा
कुछ भी...कभी भी..
103
THE MUSIC OF MY LIFE : मेरे जीवन का संगीत
132

RELATIONSHIP

6 वर्ष पूर्व
vijay kumar sappatti
HRUDAYAM :: ह्रदयम
60
THE INNER JOURNEY ::: अंतर्यात्रा
73

हम सब का मंच एक मंच

हम सब हिंदी भाशियों के लिये एक मंच। सबसक्राइब करें केवल अपना आवेदन ekmanch-subscribe@yahoogroups.com इस ईमेल पर भेजें। आप तुरंत इस मंच से जुड़ जायेंगे। यह मंच मैंने निम्न उदेश्य के साथ बनाया है।1 इस मंच पर हम सबएक ह...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
kuldeep thakur
man ka manthan. मन का मंथन।
68

YOU....!

My Dear Souls ; You are very important . not only to other , but to yourself too. The world needs a better person like you . so instead of changing the world , if  we change to ourselves , the world will become a great place for our kids and grandchildren, after all this is the only place we are leaving for them. lets make it more beautiful  by  making a better " YOU " . GOD Bless you. Much Love and Light and hugs !Vijay ...  और पढ़ें
6 वर्ष पूर्व
vijay kumar sappatti
HRUDAYAM :: ह्रदयम
51


Postcard
फेसबुक द्वारा लॉगिन