अपना ब्लॉग जोड़ें

अपने ब्लॉग को  जोड़ने के लिये नीचे दिए हुए टेक्स्ट बॉक्स में अपने ब्लॉग का पता भरें!
आप नए उपयोगकर्ता हैं?
अब सदस्य बनें
सदस्य बनें
क्या आप नया ब्लॉग बनाना चाहते हैं?
नवीनतम सदस्य

नई हलचल

औराही हिंगना- "रेणु" जी की जन्मस्थली

आज सुबह-सुबह मैं "औराही हिंगना" नामक छोटे-से गाँव में था... फणीश्वर नाथ रेणु जी की जन्मस्थली के सामने।दरअसल, कल बरहरवा से आनन्द (फागु) के छोटे भाई की बारात "सिमराहा" आयी थी, जो अररिया से प्रायः 20किलो...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
जयदीप शेखर
कभी-कभार
65

मुझे मेरी जिन्दगी दे दो

मै इक आवारा जिन्दगी ढूंढता मुझे मेरी जिन्दगी दे दोन चाहिए जायदाद, न सोहरत, न कोई उपनामन हो कोई बंधन, बस इक पल आज़ादी की मोहलत दे दोमुझे सच पढ़ाते हुए खुद सच से क्यों मुकर गएसच मत सिखाओ मुझे या फिर...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
Chandan Kumar Gupta
Chandan Kumar Gupta
94

भगवान् राम की सहोदरा : भगवती शांता परम सर्ग-1: अथ - शांता

 सोरठा     वन्दऊँ श्री गणेश, गणनायक हे एकदंत |जय-जय जय विघ्नेश, पूर्ण कथा कर पावनी ||वन्दऊँ गुरुवर श्रेष्ठ, कृपा पाय के मूढ़ मति,गुन-गँवार ठठ-ठेठ, काव्य-साधना में रमा ||गोधन-गोठ प्रणाम, कल्प-वृक...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
रविकर
श्री राम की सहोदरी : भगवती शांता
340

सर्ग-5

पुराना ड्राफ्टभगवती शांता परम सर्ग-5 : इति...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
रविकर
श्री राम की सहोदरी : भगवती शांता
105

तेरा मुझसे है पहले का नाता कोई .....

समन्दरों के किनारों पर आती -जाती लहरों के साथ , इतनी रेत क्यों आ जाती है माँ ? देखो  ना , कितनी बुरी तरह चिपक गयी मेरे पैरों से | अब ये कैसे  हटेगी ? मैंने कहा -थोड़ी देर रुको , अभी बहुत सी लहरे इन्हे...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
mamta vyas
मनवा
133

दादा जी हम नाना के घर घूम के आये हैं!

दादा  जी हम नाना के घर  घूम  के आये  हैं!दादा  जी हम नाना के घर  घूम  के आये  हैं  ;मामा   ने हमें चाट-पकौड़ी खूब  खिलाएं  हैं .दादा जी वहां नाना जी लगते हैं आपके जैसे  &nbs...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
SHIKHA KAUSHIK
मेरा आपका प्यारा ब्लॉग
120

क्या धरा संतो से खाली हो गयी है?....(कुँवर जी)

क्या धरा संतो से खाली हो गयी है?यदि नहीं तो आज सन्त कौन है या कौन हो सकता है?आभी समय ऐसा हुआ जाता है कि हर मनुष्य तुरन्त परिणाम पाना चाहता है!उसे कैसे-क्या करना है इसका ज्ञान नहीं है!फिर अध्यात्म ...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
hardeep rana
kunwarji's
89

धमाके हार जायेंगे.., पटना में साहित्य अकादेमी का बहुभाषी कवि सम्मेलन

साहित्य अकादेमी के विशेष कार्य पदाधिकारी जे. पोन्नुदुरै का वक्तव्य...        देश विभिन्न भागों से आये बहुभाषाभाषी कवियों की गरिमामय उपस्थित से पटना स्थित ख्रुदा बख़्श  ओरियंटल प...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
- अरविन्द श्रीवास्तव
86

चिठिया लिख के पठावा हो अम्मा .. (भोजपुरी)

चिठिया लिख के पठावा हो अम्मागऊंआ क तूं हाल बतावा हो अम्माहमरे मन में त बा बहुते सवालपहिले त तू बतावा आपन हालघुटना क दरद अब कईसन हौ  अबकी तोहरा बदे ले आईब शालमन क बतिया त सुनावा हो अम्मा गऊंआ क ...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
M Verma
जज़्बात
152

खुद अपने आप से आगे निकलिए ......

शायद नौकरी लगे हुए तीन साल हो गए थे तो ये उस वक्त की बात हुई यानि 2000-2001 या उसके आसपास की बात  थी । स्टेशन कौन सा था ये याद नहीं , मगर बक्सर था शायद , पानी भरने के लिए मैं भी स्टेशन पर लगे नल की लाईन में ...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
अजय कुमार झा
कुछ भी...कभी भी..
65

टूटे ख्वाब...

आँख से टूट करगिरे हुए ख्वाब को वापस जो आँख में मैंने सजाने की कोशिश  कीयूँ लगा दहह्कता शोलाहाथ मैं पकड़ लिया क्या टूटे हुए ख्वाबऐसे ही जला करतें हैंतभी तो सभीख्वाब टूटने&nbs...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
सुधीर मौर्य
ब्लाग तड़ाग
168

जीवन को चार्ज करने वाला ब्लॉग आज का आगरा

चाहे गुरु पर हो या ईश्वर पर, श्रद्धा अवश्य रखनी चाहिए! क्यों कि बिना श्रद्धा के सब बातें व्यर्थ होती हैं! समर्थ रामदास  मुहब्बत त्याग की माँ है। वह जहाँ जाती है अपने बेटे को साथ ले जाती है...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
  Sawai Singh Rajpurohit
96

किसी को आपकी हेल्प की जरूरत है एक क्लीक यहाँ भी !

ये मैंने एक ब्लॉग पर पड़ा था तो उस पर पड़कर मैंने भी इस को पोस्ट करने की सोचा जो मैं आपको इस आदमी के बारे में बता रहा हूँ। मेरी उम्र 27 वर्ष है। मैं पहले विकलांग नहीं था। मैंनें जिला उद्योग केन्द्र...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
KARTIKEY RAJ
समाज
70

अपूर्ण होकर भी पूर्ण है श्रीजगन्नाथ जी

चार प्रमुख धामों में से एक, उड़ीसा के पूर्वी समुद्रतट पर स्थित जगन्नाथपुरी के गुंडीचा मंदिर में श्रीजगन्नाथजी का अधूरा स्वरूप दिखाई देता है, जो वास्तव में हमें पूर्णता की प्रेरणा देता है। लौ...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
Praveen Gupta
हमारे तीर्थ स्थान और मंदिर - HAMARE TEERTH STHAN OUR MANDIR
79

अंदाज ए मेरा: भारत के नक्‍शे में करांची और पाकिस्‍तान...

अंदाज ए मेरा: भारत के नक्‍शे में करांची और पाकिस्‍तान...: सरबजीत सिंह एक पुरानी कहावत है, चोर चोरी से जाए, पर हेराफेरी से न जाए। पाकिस्तान का भी यही हाल है। किसी समय भारत की दया पर जिंदा रहने और ......  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
SHIKHA KAUSHIK
हम हिंदी चिट्ठाकार हैं
108

पटवा वैश्य-PATWA VAISHYA

The Patwa are a Hindu Vaishya community, found mainly in North India, who are traditional weavers and jewellery business and thread workers.HistoryAccording to the traditions of the Patwa, they descend from a deota (a Hindu god). The Patwa have many sub-groups, the Deovanshi,Deval, Raghuvanshi and Kanaujia. They fall under vaish (Baniya) category. The Patwa are an endogamous community, and follow the principle of gotra exogamy.Maheshvari is also patwa falled in baniya category They are Hindu, a...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
Praveen Gupta
हमारा वैश्य समाज - HAMARA VAISHYA SAMAJ
231

ये लखनऊ की सरज़मीं ...

-फ़िरदौस ख़ानलखनऊ कई बार आना हुआ. पहले उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के दौरान...और फिर यहां समाजवादी पार्टी की सरकार बनने के बाद. हमें दावत दी गई थी कि हम अखिलेश यादव की ताजपोशी के मौक़े पर मौजूद र...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
Firdaus Khan
Firdaus Diary
55

बिना जोश के आज तक कोई भी महान कार्य नहीं हुआ.

बिना जोश के आज तक कोई भी महान कार्य नहीं हुआ! सुभाष चंद्र बोस  नेकी से विमुख हो बदी करना निस्संदेह बुरा है। मगर सामने मुस्काना और पीछे चुगली करना और भी बुरा है!संत तिरुवल्लुवर ******** जीवन मे...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
  Sawai Singh Rajpurohit
292

VICHAR

                                ********विचार वा भावनाएं *********प्रेम जीवन की सकारात्मक शक्ति हैं |प्रेम ही हर सकारात्मक और अच्छी चीज की बुनियादी वजह हैं |जीवन म...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
ajay kumar
"मन की बातें"
71

ऐ खुश नसीब ऐ दिलो दिलदार

ऐ खुश नसीब ऐ दिलो दिलदारतू ही मेरा सपना तू ही मेरा प्यारजुङा ये जीवन तुझसे ही दिलवरबिन तेरे है अब जीना बेकार।तू रहे खुश हमेशा ऐ मेरे दिलबर खङी हो खुशियाँ करें तेरा इंतजारदे दूँ प्यार मै तुझको ...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
ANKUR DWIVEDI
शुरुआत हिंदी लेखन से
135

हाय किताबों से इश्क कर बैठा ...........

"आप इस उम्र में भी इतना क्यों पढते हैं ? " ,मैंने चौंक के सर उठा कर देखा तो एक सहकर्मी महिला मित्र मेरे हाथों में अटकी उस मोटी सी किताब को देखते हुए , मुझसे प्रश्न कर रही थीं । मेरे होठों पर एक मुस्क...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
अजय कुमार झा
कुछ भी...कभी भी..
64

हाय संस्कृति......!(कुँवर जी)

 नवीन कॉलेज  की छुट्टियों में अपने भाई विकास के पास दिल्ली आया हुआ था!विकास यहाँ नौकरी कर रहा था पिछले कई सालो से!अब वो तो सुबह निकल गया ऑफिस,पीछे नवीन पांचवे माले पर बने गाँव की रसोई से भी छो...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
hardeep rana
kunwarji's
80

51 इस्लामी साइंसी खोजें (भाग - 5 ) आवाज़ का राज़

51 इस्लामी साइंसी खोजें (भाग - 5 )किसने बताया आवाज़ का राज़?...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
Dr. Zeashan Zaidi
Ya Husain Ya Shah-E-Karbala
109

बिखरे बिखरे से कण -

-खाली होना , खाली होना नहीं होता/ भरा होना भी होता है/ लबालब/ ये आकाश है/ खालीपन से पटा हुआ.-मेरी कलम मेरी ही हो, जरूरी नहीं/ जैसे मेरे शब्द/ लिखे/ तुमने पढ़े तुम्हारे हो गए/ तुमने पढ़े, फेंके आवारा हो ...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
amitabh shrivastava
अमिताभ
134

ईशावास्योपनिषद् ....1

ईशावास्य उपनिषद्  में कुल 18 मंत्र हैं। उपनिषद् का अध्येता इन मंत्रों के साथ ज्ञान के अलौकिक सागर का दर्शन करता है । उपनिषद् का प्रारम्भ  "ॐ ईशावास्यमिदं सर्वं यत्किंच जगत्यां जगत् ...." मंत...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
हंसराज 'सुज्ञ'
॥ भारत-भारती वैभवं ॥
177

कर्मा माता की जीवन गाथा-MAA KARMA

झांसी की पावन धरती में आज लगभग 1000 वर्ष पहले, बहुत ही सम्पन्न तैलकार रामशाह के यहां सम्वत् 1073 के चैत्र कृष्ण पक्ष 11 को एक सुकन्या ने जन्म लिया। नामकरण की शुभ बेला में पिता रामशाह ने अपना निर्णय सु...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
Praveen Gupta
हमारा वैश्य समाज - HAMARA VAISHYA SAMAJ
193

मुनव्वर राना साहब से ख़ुसूसी मुलाक़ात

एक ऐसे शायर से मुलाकात जिसकी जुबान पर महबूब के पांव की खामोशी नहीं बल्कि कान छिदवाती गरीबी होती है... मिलिए मुनव्वर राना से इस बार के हम लोग में।कल मेरी ज़िन्दगी को मशहूर शायर जनाब मुनावार राना&...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
Shah Nawaz
39

खबरगंगा: देश को रसातल में ले जाने की तैयारी

आज के एक अखबार की लीड खबर का शीर्षक है 'कड़े तेवर दिखायेंगे पीएम'. उप शीर्षक है 'पेट्रोल सस्ता कर डीजल महंगा करने की तैयारी' संप्रंग सर्कार कठोर फैसले लेने का यह बेहतर मौका मान रही है. अर्थात वह ...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
ATUL WAGHMARE
0

खबरगंगा: देश को रसातल में ले जाने की तैयारी

आज के एक अखबार की लीड खबर का शीर्षक है 'कड़े तेवर दिखायेंगे पीएम'. उप शीर्षक है 'पेट्रोल सस्ता कर डीजल महंगा करने की तैयारी' संप्रंग सर्कार कठोर फैसले लेने का यह बेहतर मौका मान रही है. अर्थात वह ...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
Manoj Pandey
प्रगतिशील ब्लॉग लेखक संघ
82

एक लम्हा

कुछ अरसा पहलेएक लम्हाना जाने कहाँ से उड़ कर आ गिरामेरी हथेली पे कुछ अलग सास्पर्श था उसका यूँ लगा... मानो !जिंदगी ने आकरथाम लिया हो हाथ जैसे और मैंने उस हथेली पररख कर दूसरी हथेलीउसे सहेज कर रख लिय...  और पढ़ें
7 वर्ष पूर्व
सु-मन (Suman Kapoor)
बावरा मन
118


Postcard
फेसबुक द्वारा लॉगिन