अपना ब्लॉग जोड़ें

अपने ब्लॉग को  जोड़ने के लिये नीचे दिए हुए टेक्स्ट बॉक्स में अपने ब्लॉग का पता भरें!
आप नए उपयोगकर्ता हैं?
अब सदस्य बनें
सदस्य बनें
क्या आप नया ब्लॉग बनाना चाहते हैं?
नवीनतम सदस्य

नई हलचल

हिन्दी ब्लोगिंग की दृष्टि से सार्थक रहा वर्ष-२००९

..आज जिसप्रकार हिंदी ब्लोगर साधन और सूचना की न्यूनता के बावजूद समाज और देश के हित में एक व्यापक जन चेतना को विकसित करने में सफल हो रहे हैं वह कम संतोष की बात नही है । हिन्दी को अंतर्राष्ट्रीय स्...  और पढ़ें
8 वर्ष पूर्व
Ravindra Prabhat
33

वर्ष २०१० :ब्लोगिंग के तीव्र विस्तार से ब्लोगरों के बीच प्रतिस्पर्धात्मक चुनौती पैदा हुई

हिंदी ब्लोगिंग वर्ष-२०१० में ७ वर्ष पूर्ण कर चुकी है । यह सुखद पहलू है कि विगत कई वर्षों की तुलना में वर्ष-२०१० में हिंदी ब्लोगिंग समृद्धि की ओर तेज़ी से अग्रसर हुई है । इस वर्ष लगभग ८ से 10 हजार के ...  और पढ़ें
8 वर्ष पूर्व
Ravindra Prabhat
38

चिट्ठियाँ / आशीर्वचन / सन्देश .....ब्लोगोत्सव के लिए

प्रख्यात चित्रकार इमरोज ने कहा - किसी उपनिषद् की तरह है यह परिकल्पना !अपने आप को गीत गाने दोअपने आप को सुनने दोहम काफी हैंअपना आप गाने के लिएऔर अपना आप सुनने के लिएकिसी उपनिषद की तरह है यह परिकल...  और पढ़ें
8 वर्ष पूर्व
Ravindra Prabhat
35

Beware of winter drinking

Winter is the month of high alcohol intake. Moderation is the key provided we understand what moderation is, said Dr. KK Aggarwal, President, Heart Care Foundation of India. He was interacting with the public at the Heart Care Foundation of India stall being put up at the ongoing India International Trade Fair, Pragati Maidan in the Ministry of Health & Family Welfare pavilion.Healthy middle-aged women can have up to one and men up to two drinks a day without increasing the risk of the abnor...  और पढ़ें
8 वर्ष पूर्व
Firdaus Khan
The Paradise
100

नाम के गांधी..

8 वर्ष पूर्व
Ajay Sharma
दुनिया
74

हे अतुलित बलधारी हो सुधि लीजै हमारी ।। प्रसिद्ध अवधी भजन - डाउनलोड करें ।।

यहॉं से डाउनलोड करें/सुनें-HE ATULIT BALDHARI mp3फैजाबाद जिले के ग्रामीण (गोशाईगंज) क्षेत्र के पास रहने वाले श्री दयाराम तिवारी जी 'पुष्प' कृतये हनुमत् स्‍तुति आप सभी के समक्ष प्रस्‍तुत कर रहा हूँ ।। मुख्‍...  और पढ़ें
8 वर्ष पूर्व
SANSKRITJAGAT
महाकवि वचन-MAHAKAVI VACHAN
44

दुर्लभ मौका आपने गवाँ दिया न्यायाधीष महोदय!

अभी तक हम भ्रष्टाचार के मुद्दों पर बात कर रहे थे , अचानक सुमन जी ने अयोध्या मसले पर विनीत तिवारी के विचारों को ला पटका है , तो आईये पहले विनीत तिवारी के विचारों से अवागात्त होते हैं फिर कल जानेंग...  और पढ़ें
8 वर्ष पूर्व
Ravindra Prabhat
38

भ्रष्टाचार के खिलाफ मुहिम का ऐलान

देर  से  ही सही भारतीय समाज के विभिन्न क्षेत्रों में जानी मानी हस्तियों ने भ्रष्टाचार के विरुद्ध अभियान शुरू करते हुए देश के भ्रष्टाचार निरोधक तंत्र में कमियों को दूर करने के वास्...  और पढ़ें
8 वर्ष पूर्व
Manoj Pandey
मंगलायतन
93

बदलाव ज़रूरी है….

....गतांक से आगे बढ़ते हुए .......पिछले अंक में कतिपय विचारकों ने सिस्टम बनाने की बात की,किन्तु जहां तक सिस्टम बनाने की बात है तो इस सन्दर्भ में मैं यही कहूंगा कि सभी ऊँचे विचार बेकार हैं, यदि वह व्यव...  और पढ़ें
8 वर्ष पूर्व
Ravindra Prabhat
40

वर्ष-२००८ के अग्रणी ब्लोगर

........गतांक से आगे ....हिंदी ब्लोगिंग के समूचे परिदृश्य के बिहंगावलोकन के क्रम में मैंने वर्ष-२००३ से वर्ष-२००८ तक के सक्रिय और महत्वपूर्ण ब्लॉग का उल्लेख कर चुके हैं , संभव है कुछ और महत्वपूर्ण ब्...  और पढ़ें
8 वर्ष पूर्व
Ravindra Prabhat
45

भ्रष्टाचार समाप्त करने के लिए क्या करना चाहिए ?

देश की सबसे बड़ी समस्या क्या है?इस पर भिन्न-भिन्न लोगों के अलग-अलग मत हो सकते हैं, पर कहा गया है कि सबसे बड़ी समस्या वह होती है, जिसे लोग समस्या मानना बन्द कर देते हैं और जीवन का एक हिस्सा मान लेते है...  और पढ़ें
8 वर्ष पूर्व
Ravindra Prabhat
44

उपन्यास अंश- ७ ( ताकि बचा रहे लोकतंत्र )

(सात)सीता की जन्मस्थली सीतामढ़ी का जानकी मंदिर । बिजली के झालरों से जगमग । दूर - दूरतक रंग - बिरंगी रोशनी और उमड़ता - धुमड़ता जन - सैलाब । मंदिर के ईर्द - गिर्द दो - तीन कि0 मी0 के दायरे में दुर्लभ पशुओ...  और पढ़ें
8 वर्ष पूर्व
Ravindra Prabhat
38

शीला की जवानी!

मित्रो,बहुत दिन हो गए मैं कुछ लिख ही नहीं पाया, असल में ऑफिस में व्यस्तता इतनी हो गयी थी की मौक़ा ही नहीं मिला और ऊपर से कोई टोपिक ही नहीं मिल पा रहा था, मैंने सोचा कुछ लीक से हट के लिखूं, वैसे मैंने ...  और पढ़ें
8 वर्ष पूर्व
surender
"ख़्वाबों का तसव्वुफ़"
110

Avoid unnecessary injections : World AIDS DAY

HIV, Hepatitis B and Hepatitis C can all be transmitted through blood and blood products and or by sexual route. Keeping in mind World AIDS Day KK Aggarwal, President, Heart Care Foundation of India cautioned that getting injections from unqualified health care workers can spread HIV / AIDS. The spread of HIV in India is primarily restricted to the southern and north eastern regions of the country. In India, the main factors which have contributed to its large HIV infected population are extensi...  और पढ़ें
8 वर्ष पूर्व
Firdaus Khan
The Paradise
99

अपना क्वांरापन

घोर अमावस की रातें थी जब मैं क्वाँरा था भटक रहा था इधर उधर, ना प्रेम सहारा था दूज के चाँद सा जीवन हो गया जब तुम मुझे मिली रोम रोम हो गया बगीचा जब हृदय में कलियाँ खिलीपूनम का चन्दा बन कर तुम मेरे घर...  और पढ़ें
8 वर्ष पूर्व
jai bhardwaj
kabhee kabhee
67

बदलते दौर में साहित्य

श्री कृष्ण कुमार यादव डाक विभाग में निदेशक के पद पर कार्यरत है। आजकल अंडमान -निकोबार दीप समूह, पोर्टब्लेयर में रह रहे हैं । यह हिंदी के प्रयोगधर्मी ब्लोगर हैं जो अपने अनुभवों को शब्द की गहराई ...  और पढ़ें
8 वर्ष पूर्व
Ravindra Prabhat
52

आप जो चाहेंगे मिलेगा इस कबाड़खाने में ।

......गतांक से आगे ....वर्ष-२००८ में मैं कुछ ऐसे ब्लोग्स से रूबरू हुआ जिनमें विचारों की दृढ़ता स्पष्ट दिखाई दे रही थी । मुझे उन चिट्ठों की सबसे ख़ास बात जो समझ में आयी वह है पूरी साफगोई के साथ अपनी बा...  और पढ़ें
8 वर्ष पूर्व
Ravindra Prabhat
48

परिचर्चा :लौटा दे वो बचपन

बचपन.........मछली मछली कित्ता पानी.......कौन खायेगा जलेबी?-हम, मैंने पहले कहा,मैंने.......एक था राजा , राजा की 4 बेटियाँ ..........'नहीं पापा, दो बेटे भी '...........'ओह! क्यूँ बीच में बोलते हो ,कहानी को कहानी रहने दो'............कोई ...  और पढ़ें
8 वर्ष पूर्व
Ravindra Prabhat
47

बड़बडिया

नन्हें दोस्तो, आज मैं तुम्हें एक ऐसे व्यक्ति से मिलवाता हूँ जो हिन्दी के प्रमुख विज्ञान कथाकार माने जाते हैं। उनका नाम डा0 अरविंद मिश्र। अरे भई, ये सुई लगाने वाले डाक्टर नहीं है, इन्होंने मछल...  और पढ़ें
8 वर्ष पूर्व
Ravindra Prabhat
52

शहर

जावेद अख्तर साहब का एक शानदार शेर पेश है --- ""ये नया शहर तो खूब बसाया तुमने, क्यों पुराना शहर हुआ वीरान जरा देख तो लो !""निदा फाजली साहब ने क्या खूब लिखा है ---  ""नक्शा उठा के और कोई शहर द...  और पढ़ें
8 वर्ष पूर्व
Ramendra Mishra
मेरी डायरी
49

दो गज़लें

सालों बाद जब अपने पुराने दस्तावेजों की पोटली खोली तो मानों वक़्त ने करवट बदल कर मुझे अपनी आगोश में ले लिया। कुछ ऐसे खतों में खो गया जिनमें जिन्दगी खेला करती थी। उन्हीं खतों में मुझे मिला मेरे ब...  और पढ़ें
8 वर्ष पूर्व
amitabh shrivastava
अमिताभ
80

we love india

we love -live ''india'' so we are ''indian'',india like an earthly heaven. *******************************no -no we are not ''punjabi ''no-no we are not ''madrasi'no-no we are not ''kashmeeri'no-no we are not ''gujrati''we are indian, only indian,******soully indian***********we are indian !we have different dresses,we have different foods,we have different languages,we have different religion,but we are indian ,only indian*******soully indian***********     we are indian !we...  और पढ़ें
8 वर्ष पूर्व
SHIKHA KAUSHIK
earthly heaven
111

भविष्य का यथार्थ

जीशान जैदीजन्म : 18 अक्तूबर 1973 / शिक्षा : एम0एस-सी (गणितीय सांख्यकी)/ सृजन: विगत बारह वर्षों से अनवरत लेखन। विज्ञान कथाएं (साइंस फिक्शन) व हास्य लेखन में विशेष रूचि। देश की प्रमुख पत्र पत्रिकाओं विज...  और पढ़ें
8 वर्ष पूर्व
Ravindra Prabhat
57

लकीरे

पत्थरो की लकीरों सी है मेरे हाथ की लकीरेउभर के मिट जाती है जज्बात की लकीरेकभी हाथ की लकीरों में तो कभी तुझमे खोजते है हाथ की लकीरेखुद मिट जाती है तो मिटा जाती है हालात की लकीरेशहमात का खेल खेलत...  और पढ़ें
8 वर्ष पूर्व
Devendra Gehlod
Diary of poetry | Collection of poetry
117

२६/११ के बाद दो साल और अब भी वही के वही...!!

२६/११ की आज दूसरी सालगिरह है..बेशक यह अविस्मरणीय दुख का दिन है जिसे कि आम मुम्बईकर और सम्पूर्ण भारतवासी कभी भुला नही सकते !पर इसके साथ साथ यह और अन्य बातो को भी याद करने का दिन है....यह अन्य बाते मस...  और पढ़ें
8 वर्ष पूर्व
Sanu Shukla
राष्ट्र सर्वोपरि
84

सामाजिक सरोकार : पानी में जहर

!! पानी में जहर !!() शहरोज़ (गया, बिहार), संजीव समीर (कोडरमा, झारखंड)गया से महज़ चौंसठ किलोमीटर के फ़ासले पर है आमस प्रखंड का गांव भूपनगर, जहां के युवक इस बार भी अपनी शादी का सपना संजोए ही रह गए. कोई उनस...  और पढ़ें
8 वर्ष पूर्व
Ravindra Prabhat
49

उपन्यास अंश- ६ ( ताकि बचा रहे लोकतंत्र )

(छः)चमनलाल अपनी नाटक मण्डली के सदस्यों के साथ तैयारी में मशगूल है । अचानक झींगना को सामने देख चौंक गया वह । पास बिढाया उसे और सदस्यों से मुखातिव होते हुए कहा, कि ‘‘दोस्तो ! आप सभी को एक ऐसे व्यक्त...  और पढ़ें
8 वर्ष पूर्व
Ravindra Prabhat
65


Postcard
फेसबुक द्वारा लॉगिन