अपना ब्लॉग जोड़ें

अपने ब्लॉग को  जोड़ने के लिये नीचे दिए हुए टेक्स्ट बॉक्स में अपने ब्लॉग का पता भरें!
आप नए उपयोगकर्ता हैं?
अब सदस्य बनें
सदस्य बनें
क्या आप नया ब्लॉग बनाना चाहते हैं?
नवीनतम सदस्य

नई हलचल

5

संवाद का स्तर और उसे करनेवालों की नीयत (decency in language but fraudulence of behavior)

जब पढ़ते थे तो तरह-तरह के लोगों को पढ़ते थे। साहित्य अच्छा तो लगता ही था मगर यह दिखाना भी अच्छा लगता था कि ‘देखो, हम दूसरों से अलग हैं, हम वह साहित्य भी पढ़ते हैं जो हर किसी की समझ में नहीं आता।’ अब सो...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Sanjay Grover संजय ग्रोवर
saMVAdGhar संवादघर
5

श्रीगंगानगर फूड बास्केट ऑफ राजस्थान

श्रीगंगा नगर उत्तरी राजस्थान का प्रमुख शहर है। आपको पता यह मशहूर गजल गायक जगजीत सिंह की जन्म स्थली है। जगजीत सिंह से मेरी कई मुलाकाते हुईं जिसमें वे श्रीगंगा नगर को याद करते थे। मुझे लगता है इ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Vidyut Prakash Maurya
दाना-पानी
0

उपयोग

      हाल ही में मैं छुट्टीयां मना रहा था, तो मैं दाढ़ी बढ़ाने की सोची। मुझे बड़ी हुई दाढ़ी के साथ देखकर मेरे मित्रों और सहकर्मियों की ओर से विभिन्न प्रतिक्रियाएं आने लगीं – और अधिकांश प्रशं...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Roz Ki Roti
रोज़ की रोटी - Daily Bread
2

चिट्ठाजगत और घर की बगल की गली का शोर एक सा हुआ जाता है

अच्छा हुआ भगवान अल्ला ईसा किसी ने देखा नहीं कभी सोचता आदमी आता जाता है आदमी को गली का भगवान बना कर यहाँ कितनी आसानी से सस्ते में बेच दिया जाता है एक आदमी को बना कर भगवान जमीन का पता नहीं उसका आदम...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
डा0 सुशील कुमार जोशी
उल्लूक टाईम्स
0

मूल्याङ्कन कार्य शुरु

विश्वविद्यालय  परिसर स्थित केंद्रीय मूल्यांकन केंद्र  पर मंगलवार को  उत्तर पुस्तिकाओं का   मूल्याङ्कन कार्य  शुरु हुआ।  कुलपति प्रो डॉ राजाराम यादव   के साथ अधिकारियों ने  क...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
VBSPURVANCHAL
पूरब बानी....
1

चुनावी महाभारत 2019- कृष्ण कहाँ हैं? अर्जुन पुकार रहे!

चुनावी महाभारत 2019- कृष्ण कहाँ हैं? अर्जुन पुकार रहे!लोकसभा चुनाव 2019 का ऐलान हो चुका है। 11 अप्रैल से चुनाव शुरू होंगे। परिणाम 23 मई को घोषित होंगे। 2014 में आई मोदी सरकार के 5 वर्ष पूरे होने वाले हैं। स...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Nitish Tiwary
iwillrocknow:nitish tiwary's blog.
9

बालकविता "नया जमाना आया है" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')

रंग-बिरंगी पेंसिलें, बच्चों को बहुत लुभाती है।वो इनसे क,ख,ग, ए,बी,सी,डी भी लिखवाती हैं।।रेखाचित्र बनाना, इसके बिना असम्भव होता है।कला बनाना, केवल इससे ही सम्भव होता है।।गलती हो जाये तो, लेकर र...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
5

1334...आचार संहिता है, हमेशा नहीं रहती है, कुछ दिन के लिये मायके आती है

करना कुछ नहीं है होता, रहता है, ..औरहोता रहेगा, सादर अभिवादनउपरोक्त पंक्तियाँ चुराई हैडॉ. भैय्या की प्रस्तुति सेकुलदीप जी आज अन्तर्जालकी व्यवस्था ठीक करने में लगे हैंहोता है..पहाड़ी इलाका ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Yashoda Agrawal
पाँच लिंकों का आनन्द
0

स्‍पर्श प्रेम का.........ज्योति जैन

प्रेम का प्रथम स्‍पर्शउतना ही पावन व निर्मलजैसे कुएं काबकुल-तपती धूप में प्रदान करताशीतलता-सौंधी महक लिए।जब मिलता तो लगेबहुत कमलेकिनबढते वक्‍त के साथभर जाता लबालबपरिपूर्ण हो जाता कुआंहमे...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Yashoda Agrawal
मेरी धरोहर
5
9

मलौट मतलब माल आउट - मुक्तसर से श्रीगंगानगर वाया मलौट-अबोहर

सुबह-सुबह श्री मुक्तसर साहिब के उपकार पीजी हाउस से तैयार होकर निकल पड़ा हूं। बस स्टैंड पास में ही है। यहां से अबोहर जाने वाली बस में बैठ गया। ये प्राइवेट बस है। सवारियां ज्यादा नहीं है। बस चल प...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Vidyut Prakash Maurya
दाना-पानी
0

सहायता

      विपत्ति में सहायता माँगने के लिए निर्धारित अंतर्राष्ट्रीय संकेत “May Day” (मे-डे) सदा ही तीन बार – “मे-डे, मे-डे, मे-डे” दोहराया जाता है जिससे खतरनाक आपातकाल में परिस्थति को भली-भांति जी...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Roz Ki Roti
रोज़ की रोटी - Daily Bread
10

धार धर लो

11/03/2019वोट है तलवार इस पर धार धर लो।और अपने आप पर उपकार कर लो।।देश उन्नायक चयन का समय है ये।जोकरों खलनायकों का मान हर लो।।तुम मदारी हो जमूरे सामने हैं।एक निर्णय पंचसाला खेल कर लो।।लोकतंत्री नाव ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
विमल कुमार शुक्ल
मेरी दुनिया
4

वार्षिक खेल प्रतियोगिता समापन सत्र

विजयी खिलाडी हुए पुरस्कृत  विश्वविद्यालय के एकलव्य स्टेडियम में चल रही पांच दिवसीय वार्षिक खेलकूद प्रतियोगिता का सोमवार को समापन हुआ समापन सत्र में विभिन्न खेलकूद प्रतियोगिताओं में व...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
VBSPURVANCHAL
पूरब बानी....
0

चुनावी मुद्दा बनेगा राष्ट्रवाद!

चुनाव घोषित होने के बाद अब सबका ध्यान इस बात पर जाएगा कि मतदाता किस बात पर वोट डालेगा। तीन महीने पहले हुए पाँच राज्यों के विधान सभा चुनावों के दौरान जो मुद्दे थे, वे अब पूरी तरह बदल गए हैं।  हा...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Pramod Joshi
जिज्ञासा
3

आलेख (साहित्य की विधा "क्षणिका") डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

साहित्य की विधा"क्षणिका"    क्षणिका को जानने पहले यह जानना आवश्यक है कि क्षणिका क्या होती है? मेरे विचार से “क्षण की अनुभूति को चुटीले शब्दों में पिरोकर परोसना ही क्षणिका होती है। अर्थात्...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
2

मित्र मंडली - 112

#corner-to-corner { height:100%; border:10px SOLID Green ; padding:20px ; background: #D0B6F5 ; एक अनुरोध : G+ के जाने से पाठकों एवं रचनाकारों को नए पोस्ट खोजने में परेशानी हो रही है। इस समस्या से निपटने के लिए दो उपाए हैं : 1. अपने ब्लॉग पर रीडिंग लिस्ट क...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
राकेश श्रीवास्तव
0

1333...हम-क़दम.....इकसठवाँ अंक...

स्नेहिल अभिवादनसामाजिक व्यवस्था में साधन विहीन वह वर्ग जो जीवन जीने के लिए मूलभूत साधरण जरूरतों को भी पूरा कर पाने में आर्थिक रुप से अक्षम है उसे गरीब कहा जाता है।अभाव का दंश झेलते,छोटी...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Yashoda Agrawal
पाँच लिंकों का आनन्द
0

मौत से जो निक़ाह कर बैठे......डॉ.नवीन मणि त्रिपाठी

खूब सूरत गुनाह कर बैठे ।हुस्न पर वो निगाह कर बैठे ।।आप गुजरे गली से जब उनकी ।सारी बस्ती तबाह कर बैठे ।।कुछ असर हो गया जमाने का ।ज़ुल्फ़ वो भी सियाह कर बैठे ।।देख कर जो गए थे गुलशन को ।आज फूलों की चा...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Yashoda Agrawal
मेरी धरोहर
4
6

घर

      एक युवा अफ्रीकी शरणार्थी जो स्टीवेन के नाम से जाना जाता है, बिना किसी देश का व्यक्ति है। उसे लगता है कि उसका जन्म मोज़ाम्बीक या जिम्बाब्वे में हुआ होगा। परन्तु उसने कभी अपने पिता को ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Roz Ki Roti
रोज़ की रोटी - Daily Bread
9

दोहे "माँग रहे क्यों भीख" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')

खुला निमन्त्रण दे रहे, खिलते हुए पलाश।पश्चिम की ले सभ्यता, करो न और विनाश।।उच्चारण सुधरा नहीं, नहीं बना परिवेश।अँग्रेजी के जाल में, जकड़ा अपना देश।।लगे भूलने मनचले, हिन्दुस्तानी वेश।भौँ...  और पढ़ें
2 सप्ताह पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
6

तेरा सज़दा करूँगा।

परम पिता परमेश्वर की कृपा से आज हमने अपने वैवाहिक जीवन का एक वर्ष पूरा कर लिया है। आज ही के दिन 2018 में हमने जीवन भर साथ निभाने की कसमें खाई थी। सभी का आशीर्वाद बना रहे। सभी खुश रहें स्वस्थ रहें। आ...  और पढ़ें
2 सप्ताह पूर्व
Nitish Tiwary
iwillrocknow:nitish tiwary's blog.
7

1332...."लॉलीपॉप है महिला दिवस की बातें"

सादर अभिवादन...रविवारीय प्रस्तुति में आपका स्वागत हैदेश मे आरोप-प्रत्यारोप का युद्ध जारी हैऔर जारी रहने की संम्भावना हैसम्भवतः चुनाव पर्यन्त जारी रहेगाचुनाव मे ये युद्ध घमासान होने की सम्भ...  और पढ़ें
2 सप्ताह पूर्व
Yashoda Agrawal
पाँच लिंकों का आनन्द
0
9

खेल जिन्दगी का........आशीष दुबे

वैसे तो चाँद तारों से अपनी शनासाई है।क्या करें किस्मत में लेकिन रात की स्याही है।आइना थे और दोस्ती हो गयी एक संग से।उसकी आदत की वजह चोट हमने खाई है।रात की यूँ गोद में लेटे तो रहे रात भर।कुछ बात ...  और पढ़ें
2 सप्ताह पूर्व
Yashoda Agrawal
मेरी धरोहर
2

एक बार फिर मुक्तसर की पवित्र धरती पर...

फरीदकोट शहर के सरदार अवतार सिंह बस स्टैंड में पहुंच गया हूं। रात हो चुकी है। मुझे मुक्तसर की बस लेनी है। फरीदकोट से मुक्तसर की दूरी 45 किलोमीटर है। फरीदकोट का बस स्टैंड काफी बड़ा है पर लोगों ने ...  और पढ़ें
2 सप्ताह पूर्व
Vidyut Prakash Maurya
दाना-पानी
0

8 मार्च

      8 मार्च8 मार्च ये कोई तारीख हैया स्त्री के जख्मों परसाल दर साल बड़े प्रेम सेछिड़का जाने वाला नमक..ये 8 मार्च आखिर आता क्यों हैऔर आता भी है तो चुपचापचला क्यों नहीं जाताक्यों स्त्री कोएहस...  और पढ़ें
2 सप्ताह पूर्व
Sudha
Meri Jubani
0

गलती

      कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने स्वीकार किया, “गलतियां तो हुई हैं”; वह कंपनी द्वारा गैर कानूनी कार्यों में लिप्त होने के बारे में चर्चा कर रहा था। वह खिन्न तो दिख रहा था, परन्तु...  और पढ़ें
2 सप्ताह पूर्व
Roz Ki Roti
रोज़ की रोटी - Daily Bread
8


Postcard
फेसबुक द्वारा लॉगिन