अपना ब्लॉग जोड़ें

अपने ब्लॉग को  जोड़ने के लिये नीचे दिए हुए टेक्स्ट बॉक्स में अपने ब्लॉग का पता भरें!
आप नए उपयोगकर्ता हैं?
अब सदस्य बनें
सदस्य बनें
क्या आप नया ब्लॉग बनाना चाहते हैं?
नवीनतम सदस्य

नई हलचल

1003....मैं प्रधानमंत्री हूं.... पर हूं तो गरीब ही।.....

जय मां हाटेशवरी....आप सभी प्रतीक्षा कर रहे थे.....आदरणीय यशोदा जी की.....वे तो आज व्यस्त हैं.....निजी कामों में.....इस लिये  मैं उपस्थित हूं...... आज हिमाचल प्रदेश का स्थापना दिवस है। आजादी के बाद 15 अप्रैल, 1948 ...  और पढ़ें
7 दिन पूर्व
Yashoda Agrawal
पाँच लिंकों का आनन्द
0

टॉफी...कमलकिशोर पाण्डेय

पीली टॉफी,नीली टॉफीचमकीली साड़ी में लिपटी टॉफी.चपटी टॉफी, गोल टॉफी,ढोलक की शक्ल वाली डाँवाडोल टॉफी.छोटी लड़की ने सारी टॉफी देख डालीं-परचून की दुकान के मर्तबान में.तब दुकानदार को पर्ची बढ़ाई.49 ...  और पढ़ें
7 दिन पूर्व
Yashoda Agrawal
मेरी धरोहर
0
6

आज का दिन

   सन 1940 में, 27 वर्षीय डॉ. वर्जिनिया कौनाली, बहुत विरोध और आलोचना का सामना करते हुए, एबीलीन, टेक्सास की पहली महिला चिकित्सक बन गईं। सन 2012  में, उनके 100वें जन्मदिन से कुछ माह पहले, टेक्सास मेडिकल ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Roz Ki Roti
रोज़ की रोटी - Daily Bread
8

आलू फूल गोभी की शादियों में बनती हैं वेसी सब्जी कैसे बनाये

           आलू फूल गोभी की सब्जी बड़े ही चाव से खाते हैं क्योंकि इसका स्वाद बहुत अच्छा होता हैं हमको कई बार ऐसा लगता हैं कि जब हम शादियों में आलू फूल गोभी की सब्जी खाते है तो बहुत अच्छी बनती ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Seema Kaushik
सीमा की रसोई (Seema Ki Rasoi)
8

जज : तुमने समाज के लिये कौन सा भला काम किया है ?मुजरिम : साहब हमारे कारण ही पुलिस और अदालत में,लाखों लोगों को नौकरी मिली हुई है.....  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Upendra Gughane
hindisahityamanjari
7

डर

जरूरी है थोड़ा डर भी  मर्यादित अरु सुघड़ भी   इसी से चलती है जिंदगी,    और चलता है इंसान भीजो डर नही तो खुदा की कदर भी नहीं  मस्जिद नहीं ,मंदिर नहीं   गुरुद्वारा नहीं और गिरिजाघर नही...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Sudha
Meri Jubani
7
NIROGI KAYA(निरोगी काया)
5

सियासती रोटियां

सियासती रोटियांएक नन्हीं बच्ची के जिस्म को चूल्हा बनाकर, उसकी योनि में आग लगाकर कुछ भेड़ियों ने रोटी सेंकी. वे रोटियां न हिन्दू थी और न मुस्लिम... वे सियासत की भूख मिटाने के काम आई.डॉ शिखा कौशिक ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
SHIKHA KAUSHIK
भारतीय नारी
1

लामबंद होता किसान 14-4-18

लामबंद होता किसानमहाराष्ट्र में लगभग 40.000 किसानो ने नासिक से मुंबई तक की 200 किलोमीटर की पदयात्रा करके 11 मार्च को मुंबई की सडको पर मार्च किया | उन्होंने अपनी मांगो को लेकर महाराष्ट्र विधान सभा को ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
6

भारत रत्न बाबा साहेब भीमराव रामजी आंबेडकर की जयंती के उपलक्ष्य में गोष्ठी आयोजित

विश्वविद्यालय के विश्वेश्वरैया सभागार में भारत रत्न बाबा साहेब भीमराव रामजी आंबेडकर  की जयंती के  उपलक्ष्य में  शनिवार  को  आयोजित गोष्ठी में वक्ताओं ने बाबा साहेब  के समग्र व्यक्...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
VBSPURVANCHAL
पूरब बानी....
6

याद

मदिर, मधुर, मन्द महक महुआ के फूलों कीतप्त ज्येष्ठ में  प्रकट  उन  धूल के बगूलों कीबहुत याद आते 'जय', गाँव में जब  जाता हूँममता की छाँव तले उन बचपन के झूलों कीhttp://kadaachit.blogspot.in/ ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
jai bhardwaj
kabhee kabhee
0

औरत जात

सड़क पर नंगी लाश पड़ी थी. चारों ओर इकट्ठा लोग अनुमान लगा रहे थे - "लगता है बलात्कार करने के बाद मारकर  फेंक दिया है यहां.. आठ नौ साल की रही होगी.. पर मुद्दा ये है कि ये हिन्दू थी या मुस्लिम?"तभी भीड़ ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
SHIKHA KAUSHIK
मेरी कहानियां
1

दोहे "कर्म हुए बाधित्य" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')

जबरदस्ती के दोहेजैसे कुहरा चीरकर, उगता है आदित्य।वैसे ही कुण्ठाओं में, पलता है साहित्य।।अपने नवल विचार को, जो लिखते हैं नित्य।उनके ही साहित्य में, मिलता है लालित्य।।जो पुर के हित के लिए, क...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
7

बापू तो रहे याद भूल गए बा को

बा के  बारे में खुद बापू ने स्वीकार भी किया है कि उनमें दृढ़ता और निर्भीकता उनसे भी ज्यादा थी। बा की पहचान सिर्फ यही नहीं थी कि वे बापू की जीवन संगिनी रहीं। वह एक दृढ़ आत्मशक्ति वाली महिला थीं ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
SHIKHA KAUSHIK
भारतीय नारी
1

… ये मील के पत्‍थरों से आगे का सफर है

मशहूर शायर बशीर बद्र साहब का एक शेर है- जिस दिन से चला हूँ मेरी मंज़िल पे नज़र हैआँखों ने कभी मील का पत्थर नहीं देखा...ये फ़कत एक शेर नहीं, उस जज्‍़बे का अक्‍स है जिसे आजकल हम रेसलिंग मैट्रेस, बॉ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Alaknanda singh
अब छोड़ो भी
7

युमथांग – बर्फ से ढकी फूलों की घाटी में

लाचुंग में सुबह 5 ही जग गया। नदी के किनारे टहलने निकल पड़ा। बर्फ से ढकी चोटियां चमक रही हैं। उनपर सूर्य की रोशनी पड़ने के साथ उनकी चमक और बढ़ जाती है। सुबह सुबह एक भूटिया महिला टैक्सी का इंतजार ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Vidyut Prakash Maurya
दाना-पानी
6

हम से ही नज़रें चुराने लगे....

मौसम ज़रा ज़र्द हो क्या गया,वो हम से ही नज़रें चुराने लगे।कल तक रहे धड़कनों की तरह,साये से भी पीछा छुड़ाने लगे।काँच से भी नाज़ुक अरमां मेरे,टूटते ही लहू सब बहाने लगे।शुक्र है तुम्हें सम्भलना आ गया,हम ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
रवीन्द्र पाण्डेय
कुछ ऐसा भी... Kuchh Aisa Bhi...
5

भारतीय धर्म, दर्शन राष्ट्र -संस्कृति के विरुद्ध उठती नवीन आवाजें व उनका यथातथ्य निराकरण ---पोस्ट--आठ --डा श्याम गुप्त

                                 भारतीय धर्म, दर्शन राष्ट्र -संस्कृति के विरुद्ध उठती नवीन आवाजें व उनका यथातथ्य निराकरण ---पोस्ट--आठ  --डा श्याम गुप्त--...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री मयंक
4

आतंकवादी नहीं हैं मच्छर

आजकलमुझे मच्छरों से पीड़ित लोग बहुत मिल रहे हैं। हर किसी की जुबान पर बस यही शिकायत है- 'मच्छरों ने आतंक मचा रखा है।'तो क्या मच्छर आतंकवादी हो गए हैं? नहीं। मैं मच्छरों की तुलना आतंक या आतंकवादी स...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Anshu Mali Rastogi
चिकोटी
5

पीएम मोदी ने ‘आयुष्मान भारत योजना’ का किया शुभारंभ, छत्तीसगढ़ के आदिवासी बाहुल्य अंचल को मिला अनेक सौगात

(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); छत्तीसगढ़ के इतिहास में ऐसा पहली बार होने जा रहा है जब कोई प्रधानमंत्री अपने प्रथम कार्यक्राल में चौथी बार पहुंच रहे है। बीजापुर जिले के गांव जंगला के प्रधान मंत्री श्री न...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
जयंत साहू
चहलकदमी Chahalkadami
5

जब तुम नहीं आते

(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({ google_ad_client: "ca-pub-8930566477748938", enable_page_level_ads: true }); अक्सर ही ऐसा होता हैउम्मीदों की उंगली थामेदिल चल पड़ता हैतमन्ना की पथरीली राहों मेंऔर चुभता है फिरकिसी की बेरुख़ी का कांटाफिर लहूलु...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
लोकेश नदीश
किल्लोल
4

मनोहर अपहरण मामले की सीबीआई जांच के लिए 24 को भूख हड़ताल

सभी से निवेदन 24 को समय पर पहुचकर मनोहर सिह को न्याय मिले और पीड़ित परिवार को हमारा सहयोग...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
  Sawai Singh Rajpurohit
RAJPUROHIT SAMAJ
4

वे दोनों तो ऐक हैं, क्या रहीम क्या राम, हम में ही दुर्बुद्धि है, इसीलिये कुहराम l मिटटी की यह देह है, सब में ज्योति समान, क्या हिन्दू, क्या मुसलमा, क्यों होते हैरान ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Dr. Harimohan Gupt
Dr. Hari Mohan Gupt
4

थूक कर चाटने वाले राजनीतिज्ञों को पूरा देश देख रहा है

हरेश कुमारइंडिया अगेंस्ट करप्शन के नाम पर विदेशों से करोडों रुपए चंदा डकार जाने वाले किस मुंह से नैतिकता की बातें करते हैं। ये वै लोग हैं जिनके कारण लोगों का विश्वास राजनीतिक आंदोलनों से पूर...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Haresh
Information2media
4

डा. भीमराव अम्बेडकर के अनमोल विचार

आज आधुनिक भारतीय इतिहास में राष्ट्रपति महात्मा गाँधी और पंडित जवाहर लाल नेहरू के बाद सबसे जयदा जिस व्यक्ति के नाम ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Sunil Kumar
0

ब्राह्मण महासभा विशाल सम्मेलन बालोतरा का पोस्टर विमोचन गुरूदेव के कर कमलों से

6 मई 2018 ब्राह्मण महासभा विशाल सम्मेलन बालोतरा का पोस्टर विमोचनअनन्त विभूषित ब्रह्म ऋष...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
  Sawai Singh Rajpurohit
RAJPUROHIT SAMAJ
3

आ. कर्डीलेसह १७ जणांची न्यायालयीन कोठडीत रवानगी

आ. कर्डीलेसह १७ जणांची न्यायालयीन कोठडीत रवानगी...My news Daily Pudhari... १४-०४-२०१७#Ahmednagar#Kedgaon#SPoffice#BJP#Shivsena#NCP#Congress...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Kedar bhope
केदार भोपे
1

1002... 'शुभो नोबो बोरसो' ... सतुआन...

सतुआनजैसे गंगा का जलजैसे मां के हाथ की पकी खीरजैसे जेठ की तपिस के बीचहोरहे का साथ.तन गया मनसतुआनपीत पुहुप  कनेर के फले ऐ सखी इस मधुमास !धवल भाल पर कर रही अब ‘रश्मि’ मधुहास !१!‘बिरह-जोगिया’ छंद ...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Yashoda Agrawal
पाँच लिंकों का आनन्द
0

इनकी शरारत तो देखिए....कौशल शुक्ला

है मुफ़लिसी का दौर पर हिम्मत तो देखिए,इस शायर-ए-फनकार की मोहब्बत तो देखिए।बिन पंख के ही उड़ने को बेताब किस कदर,नादान परिंदे की हसरत तो देखिए।सूखे में किसानों का जीना मोहाल था,अब बाढ़ है, खुदाई रहमत...  और पढ़ें
1 सप्ताह पूर्व
Yashoda Agrawal
मेरी धरोहर
0


Postcard
फेसबुक द्वारा लॉगिन