Pintu
फ़ोन 08718880303
स्थान Vill-Ghayana,Post-Sakhan Khurd,Dist-Saharanpur U.P. 247554 Saharanpur, India
मेरे बारे में
Trying to write something new..........
मेसेज भेजें
6 फॉलोवर
विषय (2)
झूठ
रात के आठ बजे हुए थे और मै बस स्टैंड पर उतर कर इधर उधर ऑटो के लिए नज़र दौड़ा ही रहा था के यकायक पीछे से आवाज़ आयी कहा जाओगे बाउजी। मैंने पीछे मुड़कर देखा तो एक आदमी मैले कुचैले कपडे पहने खड़ा है पुरी सफ़ेद दाढ़ी मै ढका चेहरा ऐसे चमक रहा था जैसे पर्वत पर अभी -अभी स्नो फॉल हुआ हो। उम्र के हिसाब से सत्तर के आस -पास लग रहा था। उसने अपने दोनों हाथो से रिक्शा ऐसे पकड़ी हुई थी जैसे कोई बाप अपने छोटे बच्चे को मज़बूती से पकड़े हुए रखता है। मैंने हिचकिचाते हुए कहा मुझे तो ऑटो से जाना है। उसने पूछा बाउजी जाना कहा है मैंने कहा रेशू विहार जाना है वो बोला बाउजी मै वही रहता हू और अब घर ही जा रहा हू वैसे भी अब ऑटो शायद ही मिले रेशू -विहार के लिए। अगर ऑटो मिला भी तो ऑटो वाला आपको मैन रोड पर ही छोड़ देगा आगे आपको फिर पैदल ही जाना पड़ेगा। और मै तो उधर ही जा रहा हू और आपको अंदर तक जहा जायेंगे वही छोड़ दूंगा। मैंने भी आस -पास के लोगो से मालूमात किया तो पता चला के ऑटो अब शायद ही मिले। मैंने पूछा कितना लोगे तो वो बोला जो मर्ज़ी आये वो दे देना बाउजी मै कुछ सोचते हुए बैठ गया उस आदमी के रिक्शे मै। वो धीरे -धीरे रिक्शा को चलाने लगा। जब कही रिक्शा ऊंचाई या गढ़ू मैं आती बाबा नीचे उतरकर हाथो से खींचकर चलने की कोसिश करता। आस -पास के लोगो की नज़रे मुझे घूर रही थी शायद सोच रहे होंगे के बूढ़ा आदमी रिक्शा खीच रहा है और ये रिक्शा को तख्ते -ताज समझकर बैठा है। खैर हम लोग बढे जा रहे थे और मै पता नही किस उधेड़बुन मै था कि रिक्शा चलाते -चलाते बाबा बोला बाउजी लगता है पहले-पहल आये हो इस नगर मै। मुझे लगा सब कुछ जानना चाहता है कुछ गड़बड़ तो नी। मै कुछ कहता इससे पहले ही बाबा बोला बाउजी जहा से हम लोग अभी गुज़र रहे है यही पर तो अक्सर लूट -पाट होते है.मेरे तो होठो को जैसे लकवा मार गया। मै बस हु हा ही करता रहा और वो बोलता जा रहा था मैंने देखा इस साइड की रोड पर लाइट भी नी है. कुछ कुछ दूरी पर खोके वाले या रेड़ी वाले दिख रहे थे। बाबा बोला कुछ रिक्शा वाले भी होते है और कुछ ऑटो वाले भी होते है जो मेहनत की जगह इस गलत काम मै लगे हुए होते है। फिर मैंने पूछा बाबा इस उम्र मै रिक्शा क्यों चलाते हो उसने पीछे की तरफ मुड़कर मुझे जवाब दिया क्या करू बाउजी कोई औलाद भी नी है एक लड़का हुआ था जो काफी सालो पहले गुज़र गया था फिर ऊपर वाले की मेहरबानी से हम लोग महरूम हो गये। मैने आगे पूछा बाबा घर मै और कौन है मेरी औरत है जवाब मिला। आजकल बीमार रहती है उसकी दवा -दारू भी करनी पड़ती है और अपनी भी। बाबा बोले जा रहा था -आगे बोला एक भतीजा रखा था मैंने अभी कुछ महीने पहले अब वो भी चला गया है। मेरी रूचि (Interest) का ग्राफ बढ़ने लगा था और डर का तूफ़ान भी अपने ख़ोल मै सिमटने को बेकरार हो रहा था। क्यों चला गया है बाबा मैंने पूछा-क्या बताऊँ बाउजी ये दुनिया स्वार्थ की है भतीजा कहता है के पहले मकान मेरे नाम कराओ। जैसे तैसे करके एक मकान लिया था मैने बरसो पहले दो कमरो का। सोचा था भतीजा रहेगा तो हमे भी अपनापन लगेगा और मकान तो एक ना एक दिन उसके नाम हो ही जायेगा। लेकिन यार रिश्तेदार सब की निगाह मकान पर ही है सब चोर है सब स्वार्थी है। आज के टाइम मै मेहनत करने वाले बहुत कम है बाउजी। मै बस उसको देखे जा रहा था और उसको सुने जा रहा था। एक न एक दिन तो सबको मरना ही है बाउजी मै भी मर जाऊंगा और मेरी औरत भी लेकिन ये मकान यही रह जायेगा। दिन भर रिक्शा चलता हु और आप जैसे लोगो से दिल की बात कह लेता हु तो मन हल्का हो जाता है चार पैसे भी आ जाते है। मेरा मन पता नही कहा खो गया और क्या क्या सोचने लगा। फिर बाबा ने क्या क्या कहा मुझे पता ही नही चला। आ गया रेशू -विहार बाउजी जब उसने कहा तो मेरी तन्द्रा टूटी। मैने बाबा को पैसे दिए और कुछ कहता इससे पहले ही बाबा ने दोनों हाथ जोड़ लिए जैसे वो मुझे विश कर रहा हो। मै किंकर्तव्यविमूढ़ (Confussed) हो चला था और सोचते-सोचते चल दिया था अपने गंतव्य (Destination) की और फिर पता नही पूरी रात मुझे नींद क्यों नही आई। …… पूरी रात मेरी करवटे और बाबा की बातें नींद के साथ लोहा लेती रही। कहने की जरुरत नही कि नींद की शिकस्त का प्लेटफॉर्म तैयार हो चुका था। ……। अगले दिन जब मै बस स्टैंड पर गया तो मेरे निगाहें बरबस इधर -उधर ही दौड़ रही थी और शायद इंतज़ार कर रही थी उसी उम्रदराज़ शख्शियत का। .......
फॉलो (9)
Rekha Boolchandani
  Rekha Boolchandani
Bengaluru, India
Landon
  Landon
New York, Marshall Islands
Shabab Khan
  Shabab Khan
Kanpur, India
Alka Gupta
  Alka Gupta
Meerut City, India
Dolly Bansiwar
  Dolly Bansiwar
new delhi, India
Manisha Verma
  Manisha Verma
Delhi, India
Vanessa
  Vanessa
New York, Croatia (Hrvatska)
Shikha varshney
  Shikha varshney
London, United Kingdom
Blog Varta
  Blog Varta
New Delhi, India
फॉलोवर (6)
Uday Kumar
  Uday Kumar
Patna, India
Sahitya Samhita
  Sahitya Samhita
New Delhi, India
Manisha Verma
  Manisha Verma
Delhi, India
Ashish Shukla
  Ashish Shukla
Jabalpur, India
Postcard
फेसबुक द्वारा लॉगिन  
हो सकता है इनको आप जानते हो!  
vikas kumar
vikas kumar
begusarai,India
ashu
ashu
kolkata,India
Manoj Pandey
Manoj Pandey
Bettiah,India
pushpendar jangir
pushpendar jangir
delhi,India
shivprakash yadav
shivprakash yadav
ahmedabad,India
राजीव कुमार झा
राजीव कुमार झा
भागलपुर ,India